आगरा, जेएनएन। प्रदेश की योगी सरकार इन दिनों पुलिस और सरकारी महकमे में भ्रष्ट और निष्क्रिय अफसरों की छंटनी करने में जुटी हुई है। मथुरा जिले में दो एसआइ समेत नौ पुलिस कर्मियों को देर रात जबरन सेवानिवृत्ति दे दी गई, जबकि एक इंस्पेक्टर समेत पांच के नाम आइजी रेंज को भेजे गए हैं। इनमें श्रीकृष्ण जन्मस्थान पर तैनात पुलिसकर्मी भी शामिल हैं। 

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शलभ माथुर ने शासन से आए आदेश पर मथुरा में निष्क्रिय अफसरों की तलाश की तो एक-एक कर यह सूची 14 पर पहुंच गई। दो एसआइ, एक हेड कांस्टेबल और छह कांस्टेबल समेत नौ को जबरन सेवानिवृत्ति दे दी गई है। एक इंस्पेक्टर समेत पांच अफसरों के नाम रेंज के आइजी सतीश गणेशन को भेजे गए हैं। हालांकि पुलिस विभाग ने इन्हें जो पत्र जारी किया गया है उसमें तर्क दिया गया है कि 50 साल की उम्र पार कर करने के बाद शिथिलता और काम के प्रति अरुचि को देखते हुए सेवानिवृत्ति प्रदान की जाती है। सभी अधिकारी और जवानों को पुलिस लाइन में देर रात को लिखापढ़ी के बाद विभाग ने विदाई दे दी।

1. राकेश शर्मा-एएसआइ

2. अहलकार- हेड कांस्टेबल

3. मवासी लाल-एसआइ

4. रामपाल सिंह - आरक्षी

5. नरेश पाल सिंह - आरक्षी

6. शशिपाल सिंह - आरक्षी

7. तेजपाल सिंह - आरक्षी

8. प्रेमप्रकाश - आरक्षी

9. अशोक सिंह - आरक्षी

रेंज को भेजे नाम

इंस्पेक्टर छाया पाठक समेत पांच नाम आइजी आगरा रेंज को भेजे गए हैं, इन्हें रेंज के आदेश पर जबरन सेवानिवृत्ति दी जाएगी।

श्रीकृष्ण जन्मस्थान पर तैनात हैं कई

पुलिस विभाग ने बनाई सेवानिवृत्ति की लिस्ट में श्रीकृष्ण जन्मस्थान पर तैनात पांच पुलिसकर्मी भी शामिल हैं।

क्‍या कहते हैं अधिकारी

मथुरा में करीब दर्जन भर पुलिस के अफसर और जवानों को 50 वर्ष की आयु पूर्ण करने पर जबरन सेवानिवृत्ति दी गई है। इसमें पांच लोगों के नाम आइजी रेंज आगरा को भेजे गए हैं।

शलभ माथुर, एसएसपी

Posted By: Prateek Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप