आगरा, जागरण संवाददाता। विंग कमांडर पृथ्वी सिंह का अंतिम संस्कार ताजगंज श्मशान घाट स्थित नवनिर्मित मोक्षधाम हुआ। उनकी चिता शाहरूख, मुबीन, भोला और संजय ने सजाई।वह पीढ़ियों से यहां पर चिता सजाने का काम कर रहे हैं। बजाजा कमेटी ने नवनिर्मित मोक्षधाम का नाम पृथ्वी सिंह चौहान रखा गया है।

मोक्षधाम पर ताजगंज के कटरा फुलेल के रहने वाले भोला समेत दस ठेकेदार हैं। सभी ठेकेदारों का आठ-आठ दिन का रोटेशन होता है। मगर, इन सभी ठेकेदारों के लिए चिता सजाने का काम करने वाले लोग एक हैं। जो स्वजन द्वारा मुखाग्नि देने के बाद पार्थिव शरीर के राख होने तक वहां मुस्तैद रहते हैं। शनिवार को ठेकेदार भोला के साथ मुबीन, शाहरूख और संजय ने विंग कमांडर पृथ्वी सिंह चौहान की चिता सजाई।

मोक्षधाम पर सुंदरीकरण का काम किया गया है। यहां नवीन अंत्येष्टि स्थल बनाया गया है। जिसमें आठ चिता स्थल हैं। शनिवार को यहां पृथ्वी सिंह चौहान का अंतिम संस्कार किया गया। रविवार को अस्थियां चुनने के बाद बाद अंत्येष्टि स्थल सभी के लिए खोल दिया जाएगा। क्षेत्र बजाजा कमेटी ने विंग कमांडर पृथ्वी सिंह चौहान को नमन करते हुए नवीन अंत्येष्टि स्थल का नामकरण "शहीद पृथ्वी सिंह चौहान अंतिम विश्राम स्थल' करने की घोषणा की।

प्रशासनिक अधिकारियों की मौजूदगी में हुए अंतिम संस्कार में क्षेत्र बजाजा कमेटी के पूर्व अध्यक्ष सुनील विकल, टीएन अग्रवाल, महामंत्री राजीव अग्रवाल, कोषाध्यक्ष ऋषि मित्तल, राजेंद्र गोयल, मनोज शर्मा, कृष्ण कुमार अग्रवाल, राकेश कुमार अग्रवाल, अनुज राठी व नंदकिशोर गोयल ने व्यवस्थाएं देखीं व श्रद्धांजलि दी।

क्षेत्र बजाजा कमेटी ने नागरिकों से भी मांगे सुझाव

क्षेत्र बजाजा कमेटी ने इस स्थल का नाम किस नाम के साथ किस रूप में रखा जाए, इसके लिए लोगों से भी सुझाव मांगे हैं। लोगों से अपने सुझाव क्षेत्र बजाजा कमेटी के एमजी रोड स्थित कार्यालय पर देने की कहा है। अध्यक्ष अशोक गोयल के अनुसार श्रेष्ठ नाम सुझाने वाले लोगाें को कमेटी द्वारा पुरस्कृत किया जाएगा। 

Edited By: Tanu Gupta