आगरा, जागरण संवाददाता। मोहल्ला कूंचा साधूराम में हुए चौहरे हत्याकांड के बाद घटनास्थल से मिले साक्ष्य लूट के साथ ही तंत्र-मंत्र की ओर भी इशारा कर रहे हैं। पुलिस इनके साथ ही किसी करीबी का हाथ होने की आशंका के एंगल से भी जांच कर रही है। फिलहाल गुत्थी उलझी हुई है।

रेखा और उसके तीन बच्चों की हत्या के बाद मौके पर पहुंची पुलिस को भूतल पर ही पूजा की थाली मिली। पास ही कटे हुए नींबू, सिदूर आदि सामान रखा था। प्रथम तल पर भी कुछ पूजा सामग्री मिली। इससे तंत्र क्रिया के दौरान हत्या की आशंका जताई जा रही है। रसोई में डेढ़ कप चाय बर्तन में मिली। पुलिस मान रही है कि चाय बनाई गई, लेकिन पी नहीं गई। दूध फटा हुआ था। रसोई में रखे बर्तन सूखे थे, खाना भी नहीं बना था। पुलिस को पड़ोसियों से जानकारी मिली कि महिला और उसके बच्चों के पास मोबाइल थे, एक लैपटाप भी था। पुलिस को जांच में मोबाइल और लैपटाप नहीं मिले। इससे स्पष्ट है कि लूटपाट हुई है, हत्यारा क्या-क्या ले गया यह साफ नहीं है।

पड़ोसियों ने पुलिस को बताया कि रेखा के घर के बाहर आए दिन गली में नींबू पड़े मिलते थे, इस पर वे आपत्ति भी जताते थे। हालांकि किसी तांत्रिक को कभी उसके घर आते-जाते नहीं देखा। वहीं कुछ लोगों ने जानकारी दी कि महिला के घर अनजान लोग आते-जाते थे। महिला बच्चों को घर पर अकेला छोड़कर जाती थी तब दरवाजे पर बाहर से ताला बंद कर जाती थी। पुलिस को वारदात में किसी करीबी के होने की भी आशंका है, क्योंकि अंजान आदमी के लिए रेखा घर का दरवाजा नहीं खोलती थी।