आगरा, जागरण संवाददाता। फतेहपुर सीकरी के विकास और पर्यटकों को यहां रोकने के लिए विधायक चौधरी उदयभान सिंह प्रयास में जुटे हैं। भारत सरकार ने देश के 10 शहर पर्यटन विकास के लिए आइकॉनिक साइट के रूप में चयनित किए हैं, जिसमें फतेहपुर सीकरी भी शामिल है। विधायक ने कहा कि पहला प्रयास पूरा हुआ है, अब क्षेत्र के कुछ स्थान हैं जिनको विकास में सम्मिलित कराया जाएगा। इसके लिए आगामी बैठकों के लिए बिंदु तैयार कर लिए गए हैं।

विधायक, सांसद राजकुमार चाहर के साथ मीडिया से रूबरू हुए। उनका कहना था कि देश ही नहीं, विदेश से जो लोग ताजमहल देखने आते हैं, वे फतेहपुर सीकरी भी जाते हैं। पर्यटक यहां रात्रि विश्रम नहीं करते, सीधे दिल्ली रवाना हो जाते हैं। इसलिए क्षेत्र के पर्यटन का विकास होना जरूरी है, जिससे पर्यटक यहां रुक सके। इसके लिए वीर राणा सांगा के इतिहास से संबंधित खानवा के मैदान का सौंदर्यीकरण, महाराजा सूरजमल के इतिहास की गवाहा भूमि का सौंदर्यीकरण, राजा टोडरमल की बारहदरी ओर आसपास के क्षेत्र का पर्यटन विकास, पश्चिमाई मंदिर जहां पांडवों ने वनवास काटा था, बुलंद दरवाजा फतेहपुर सीकरी से 100मीटर की दूरी पर उपलब्ध भूमि का सौंदर्यीकरण सहित डेढ़ दर्जन प्रस्ताव सुझाए गए हैं। इनको भी विकास में सम्मिलित कराया जाएगा, जिससे पर्यटकों के लिए कई अन्य आकर्षण का केंद्र बनें। सांसद चाहर ने कहा कि क्षेत्र के विकास का खाका तैयार कर लिया गया है। उनपर केंद्र और प्रदेश सरकार के सहयोग से क्रियान्वयन कराया जाएगा। सभी विधानसभा क्षेत्र के विधायक को साथ लेकर विकास के नए आयाम बनाए जाएंगे। संजीव पाल सिंह, मनीष थापक आदि मौजूद थे।

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Tanu Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप