कासगंज, जेएनएन। बोलेरो कार सवारों ने महिला का अपहरण कर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। आरोपित महिला को बेहोशी की हालत में सड़क किनारे फेंक गए। पुलिस ने महिला का चिकित्सीय परीक्षण कराया है। आरोपितों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया गया है। घटना सोमवार की है।

होली का त्‍योहार महिलाओं के लिए आफत लेकर आया। मैनपुरी में जहां कलयुगी मामा ने दस वर्षीय बालिका के साथ दुष्‍कर्म का उसकी हत्‍या कर दी वहीं कासगंज में सामूहिक दुष्‍कर्म की वारदात सामने आई। उधर उन्‍नाव में भी बालिका के साथ दुष्‍कर्म और हत्‍या का मामला सामने आया। त्‍योहार पर महिला सुरक्षा के सारे दावे फेल होते दिखे। कासगंज में सड़क पर दौड़ती कार में होता जुर्म पुलिस को कहीं नजर नहीं आया। मामले के अनुसार जनपद एटा के थाना जैथरा के गांव की महिला घर से दवा लेने दरियावगंज आई थी। शाम लगभग छह बजे जब दवा लेकर वापिस लौट रही थी, तभी पटियाली थाना क्षेत्र के ग्राम जिनौल निवासी राजीव, रामकुमार, राजकुमार जो कि बोलेरो कार से मार्ग गुजर रहे थे आरोप है कि कार सवारों ने कार रोक कर महिला को कार में बैठा लिया और गांव छोड़कर आने की बात कही। आरोपितों ने महिला को गांव तो नहीं छोड़ा, लेकिन चलती कार में उसके साथ बारी बारी से दुष्कर्म किया। दुष्कर्म के बाद आरोपितों ने महिला को बेहोशी की हालत में दरियावगंज चौकी के समीप फेंक दिया। जब लोगों ने महिला को बेहोशी की हालत में सड़क किनारे देखा तो पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंचकर पुलिस ने महिला को स्वास्थ्य केंद्र भेजा जहां से उसे जिला चिकित्सालय रेफर कर दिया गया। मामले में आरोपित राजीव कुमार, रामकुमार, राजकुमार के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया गया है। 

जांच के बाद आरोपितों की तलाश में जुटी पुलिस

महिला को चिकित्सीय परीक्षण को भेजा गया है। मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पुलिस मामले की जांच और आरोपितों की तलाश में जुटी है।

- इंंस्पेक्टर शैलेंद्र गौतम, पटियाली

 

Posted By: Tanu Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस