मथुरा, जागरण टीम। मथुरा की श्रीरामलीला का इतिहास करीब 184 वर्ष पुराना है। इस वर्ष रामलीला का मंचन होना था। कुछ पात्र बदल गए। ऐसे में राम की आराधना के लिए पात्रों ने चार माह तक प्रशिक्षण लिया। जून में ही पात्रों को चौपाई याद कराने का अभ्यास शुरू कर दिया था। इंग्लिश मीडियम में पढ़ रहे छात्र भी चौपाई को बिना रुके बोलते हैं। पात्र दिन में तीन-चार घंटे प्रतिदिन चौपाई याद करते हैं।

दो साल तक नहीं हुआ रामलीला का मंचन

कोरोना के कारण दो वर्ष से रामलीला का आयोजन नहीं हो रहा था। इस वर्ष रामलीला का मंचन होना था, इसलिए लीला स्वामी अनिल ने पहले ही पात्रों का चयन कर लिया था। सभी को चौपाई और संवाद दे दिए गए। पात्रों ने ग्रीष्मकालीन अवकाश होने पर जून में चौपाई याद करना शुरू कर दिया था।

इंग्लिश मीडियम में पढ़ रहे छात्र फटाफट याद करते हैं चौपाई

इंग्लिश मीडियम में पढ़ रहे छात्र भी चौपाई को बिना रुके बोलते हैं। दिन में तीन-चार घंटे प्रतिदिन चौपाई याद कर रामलीला मंचन को सफल कर रहे हैं। अनिल स्वामी बताते हैं कि पात्रों ने जून से ही अभ्यास शुरू कर दिया था। रामलीला महोत्सव शुरू होने से पहले अभ्यास भी कराया गया था।

राम को बनना है सीए

श्रीरामलीला महोत्सव के प्रमुख पात्र श्रीराम का स्वरूप चंपा अग्रवाल इंटर कालेज के कक्षा 10 के छात्र प्रद्युम्न निभा रहे हैं। वह सीए बनना चाहते हैं। इससे पूर्व भी वह बाल रामलीला महोत्सव में श्रीराम का स्वरूप बन चुके हैं।

अधिवक्ता बनना चाहते हैं भरत

श्रीरामलीला महोत्सव में भरत का पात्र सेंट पाल्स स्कूल के कक्षा 11 के छात्र श्रेयांस निभा रहे हैं। वह अधिवक्ता बनकर पीड़ितों को न्याय दिलाना चाहते हैं। पहले वह शत्रुघ्न का पात्र निभा चुके हैं।

सीताजी को बनना है इंजीनियर

सीताजी का पात्र निभा रहे जवाहर इंटर कालेज के कक्षा नौ के छात्र वंशी इंजीनियर बनने का सपना देख रहे हैं। वह पहली बार स्वरूप बने हैं। पहली बार में ही वह बहुत ही अच्छे संवाद बोल रहे हैं।

एमबीए करना चाहते हैं लक्ष्मण

लक्ष्मण का पात्र निभा रहे माउंट हिल एकेडमी के कक्षा आठ के छात्र गोपाल एमबीए करना चाहते हैं। वह अपने लक्ष्य को ध्यान में रखकर पढ़ाई कर रहे हैं। वह करियर को लेकर भी जागरूक हैं।

शत्रुघ्न बनना चाहते हैं क्रिकेटर

रामलीला मंचन में शत्रुघ्न बनने वाले माउंट हिल के कक्षा नौ के छात्र कृष्णा खिलाड़ी बनना चाहते हैं। उन्हें क्रिकेट में अपना करियर बनाना है। वह इसके लिए अभ्यास भी करते हैं।

ये भी पढ़ें...  Atithi Bhooto Bhava: जैकी श्राफ संग नजर आए आगरा के सुनील, शूट की तस्वीरों में देखिए 'जग्गू दादा' का अंदाज

Edited By: Abhishek Saxena