आगरा, जेएनएन। आंखों में आंसू हैं, जख्‍म ऐसा है जो कभी भर न सकेगा लेकिन दिल में जोश है कि देश को एक ऐसी सरकार मिले जो आतंक का खात्‍मा कर सके और देश को सुरक्षित कर सके। इस सोच को लेकर ही पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ जवान रामवकील की पत्‍नी और मां ने अपने मन का प्रयोग किया।  

मैनपुरी में 17 वीं लोकसभा के लिए तीसरे चरण में मतदान हो रहा है। पूरे जिले में मतदान को लेकर उत्‍साह है। हर कोई अपने मताधिकार का प्रयोग करने के लिए घर से निकल रहा है। बरनाहल के गांव विनायकपुर निवासी शहीद रामवकील की पत्नी गीता देवी, मां अमित श्री और भतीजे शिवकुमार भी मतदान करने पहुंचे। मतदान करने के बाद शहीद की पत्नी और मां ने कहा कि देश की सुरक्षा करने वाली सरकार चुनने के लिए अपने मत का प्रयोग किया है। सरकार ऐसी हो जो आतंकियों पर कार्रवाई करे और देश का विकास भी करे। 

Posted By: Prateek Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप