आगरा, जागरण संवाददाता। मानसून की दस्तक के साथ ही छतरी और रेनकोट का बाजार तैयार हो चुका है। बाजार में नए डिजाइन के छाते और रंग-बिरंगे रेनकोट सज चुके हैं। बच्चों के लिए जहां काटरून बने छाते तो वहीं महिलाओं व युवतियों के लिए प्रिंटिंग छाते काफी आकर्षक हैं। अलग-अलग उम्र के लोगों के लिए बाजार में अलग-अलग रंगों के रेनकोट भी उपलब्ध हैं।

मानसून अपने साथ बाजार में रंग-बिरंगी छतरी और रेनकोट की बहार लेकर आया है। नए स्टाक से दुकानें पट गई हैं। बारिश से व्यापारी भी अच्छे कारोबार की उम्मीद लगा रहे हैं। इस बार देशी छातों व रेनकोट की अधिक मांग है। पिछले साल की अपेक्षा इस बार चायनीज छातों व रेनकोट का माल बाजार में कम है। छतरी और रेनकोट की दुकान करने वाले मोहित ने बताया कि उनके पास डेढ़ सौ रुपये से लेकर बड़ा डिजाइनर छाता तीन सौ रुपये तक की कीमत में उपलब्ध है। इसमें अलग-अलग रंग का डिजाइन मौजूद है। इसी के साथ बच्चों के काटरून वाले रेनकोट डेढ़ सौ रुपये से शुरू होकर पौने तीन सौ तक की रेंज में हैं। वहीं, बारिश से बड़ों को बचाने के लिए भी रेनकोट उपलब्ध हैं, जिनकी कीमत तीन सौ रुपये से लेकर छह सौ रुपये के बीच है।

ट्रांसपेरेंट रेनकोट की अधिक मांग 

राजामंडी स्थित विक्रेता दिनेश गर्ग ने बताया कि ट्रांसपेरेंट रेनकोट तीन सौ रुपये में फुटकर बाजार में उपलब्ध है। वहीं ब्रांडेड रेनकोट की कीमत छह सौ से आठ सौ रुपये के बीच है। इस बार ट्रांसपेरेंट रेनकोट और छतरियों की अधिक मांग है।

रंगीन मच्छरदानी भी मौजूद 

बरसात में कीट-पतंगों की भरमार के चलते मच्छरदानी भी बाजार में आ चुकी हैं। दुकानदारों का मानना है कि मौसम में बदलाव आने के चलते इस बार इनकी बिक्री तीस फीसद अधिक हो सकती है। फुटकर बाजार में दो सौ रुपये से सात सौ रुपये के बीच मच्छरदानी उपलब्ध हैं।

विदेशी डिजाइनर वाले रेनकोट पहली पसंद

इन दिनों लोगों को विदेशी डिजाइन वाले रेनकोट काफी लुभा रहा हैं। व्यापारी अभिषेक बताते हैं कि आज की युवा पीढ़ी रेनकोट बारिश से बचने के साथ स्टाइलिश लुक के लिए भी पहनती है। ये रेनकोट प्लेन, फ्लावर प्रिंट, कार्टून प्रिंट, पॉकेट के साथ कई साइज में मौजूद हैं। इनकी रेंज भी अलग-अलग है। इस साल नियॉन कलर के साथ रेनकोट में पीला, लाल, काला, ब्राउन, पिंक, ब्लू, और नेवी ब्लू कलर खास है।


 

Posted By: Tanu Gupta