आगरा, जागरण संवाददाता। आगरा लोकसभा सीट से बसपा प्रत्याशी रहे मनोज सोनी ने सांसद प्रो. एसपी सिंह बघेल के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। उन्होंने लोकसभा चुनाव में एसपी सिंह बघेल द्वारा लगाए गए जाति प्रमाण पत्र को गलत बताया। सोनी ने कहा कि इसके खिलाफ उन्होंने जुलाई में कोर्ट में याचिका दायर की थी, जिस पर कोर्ट ने प्रो. बघेल को नोटिस जारी किया है। सोमवार को इस मामले की सुनवाई हो रही है।

रविवार को होटल भावना क्ला‌र्क्स इन में आयोजित पत्रकार वार्ता में मनोज कुमार सोनी ने बताया कि लोकसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशी एसपी सिंह बघेल ने अपने आपको अनुसूचित जाति का बताया है जबकि उनके पिता के राजस्व अभिलेखों में वह धनगर पाल गडरिया जाति से संबंधित हैं। उन्होंने आगरा कॉलेज में असिस्टेंट प्रोफेसर की नौकरी पायी तो अपने आपको ओबीसी बताया।

मनोज सोनी ने कहा कि बहुजन समाज उनके इस षड्यंत्र को कभी कामयाब नहीं होने देगा। इस अधर्म के विरोध में मैं लड़ता रहूंगा। सोनी ने आरोप लगाया कि उन पर इस मामले को वापस लेने के लिए दबाव बनाया जा रहा है, लेकिन मैं पीछे नहीं हटूंगा। इसके लिए जहां तक जाना पड़ा वहां तक जाउंगा। उन्होंने कहा कि दबाव से वो पीछे हटने वालों में नहीं हैं। इस दौरान मंडल जोन इंचार्ज देवी सिंह, जिलाध्यक्ष संतोष आनंद, सौरभ दयाल मंडल जोन इंचार्ज आदि लोग मौजूद रहे। न्यायालय में विचाराधीन मामले में मुझे कुछ नहीं कहना है। मनोज सोनी को भी इस बात का ध्यान रखना चाहिए। मामला कोर्ट से जुड़ा हुआ है।

प्रो. एसपी सिंह बघेल, सांसद

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप