जागरण संवाददाता, आगरा: बम-बम भोले के जयकारों से शिवालय गूंज उठे। लोगों ने सुबह से ही मंदिरों में पहुंचकर शिवजी का जल और दूध से अभिषेक किया। वैदिक रीति-रिवाज से देवाधिदेव महादेव का रुद्राभिषेक हुआ। बुधवार को महाशिवरात्रि पर शहर के सभी शिवालयों पर कुछ ऐसा ही नजारा देखा गया।

महाशिवरात्रि पर्व पर देवाधिदेव भगवान महादेव की पूजा-अर्चना का दौर मंगलवार से ही शुरू हो गया था। मंदिरों में देर रात तक भगवान शिव और माता पार्वती के विवाह के संस्कार कराए गए। वहीं सुबह पांच बजे से ही मंदिरों में श्रद्धालुओं के पहुंचाने के सिलसिला शुरू हो गया। भक्तों ने जल और दूध से भगवान का अभिषेक किया। उन्हें बेल पत्र और धतूरा अर्पित किया गया। साथ ही शहरभर के शिवालयों पर मंत्रोच्चारण के साथ रुद्राभिषेक कराए गए। नौ पहर की पूजा की गई।

मंदिरों में उमड़ा आस्था का ज्वार

महाशिवरात्रि पर्व पर बुधवार को शहर के सभी शिवालयों पर आस्था का सैलाब उमड़ा। मनकामेश्वर, रावली, राजेश्वर, बल्केश्वर, कैलाश और पृथ्वीनाथ महादेव मंदिर पर सुबह से ही शिव भक्तों की भीड़ रही। सभी ने पूजा-अर्चना कर भगवान के दर्शन कर आशीर्वाद लिया।

व्रत रखकर की आराधना

महाशिवरात्रि को लेकर लोगों में असमंजस की स्थिति थी। लिहाजा कई लोगों ने मंगलवार और अधिकांश ने बुधवार को महाशिवरात्रि का व्रत रखकर भगवान महादेव की पूजा-अर्चना की।

लगाया भांग का भोग

भगवान महादेव के मंदिरों में भोले भंडारी को भांग का भोग लगाया गया। इस मौके पर भक्तों ने ठंडाई का प्रसाद वितरण किया। लोगों ने भगवान के प्रसाद के रूप में भाग भी ली।

खूब लगे भंडारे

शहर के शिव मंदिरों पर खूब भंडारे लगाए। किसी ने शर्बत का तो किसी ने पूड़ी-सब्जी का भंडारा लगाया। मनकामेश्वर मंदिर पर मंगलवार रात को ठंडाई और दूध का भंडारा लगाया गया। वहीं कैलाश, रावली समेत अन्य शिव मंदिरों पर भी यही नजारा देखा गया।

सुबह खप्पर पूजन, शाम को हुआ महिला संगीत

बिल्वकेश्वर महादेव मंदिर पर चल रहा महाशिवरात्रि महोत्सव बुधवार को संपन्न हो गया। भक्त मंडल के ब्रज मोहन अग्रवाल ने बताया कि बिल्वकेश्वर महादेव मंदिर में सुबह सात बजे खप्पर पूजन महंत पंडित सुनील कांत नागर और पंडित कपिल नागर ने किया। इसके बाद मंदिर में भक्तों का सैलाब उमड़ा। पूजन के बाद प्रसाद बांटा गया और दोपहर से महिला संगीत हुआ, जिसमें सैकड़ों महिलाओं ने भगवान भोलेनाथ व माता पार्वती के भजन व कीर्तन गाए। इस दौरान अलका नागर, वैभवी पंडया, श्रुति पंडया, दिव्या, रेखा अग्रवाल, ममता सिंघल, नेहा अग्रवाल, माया अग्रवाल, निशा मंगल, सुनीता गोयल, नीरू शर्मा आदि मौजूद रहीं।

श्रद्धालुओं ने चढ़ाईं कांवर

महाशिवरात्रि पर शिव मंदिरों में कांवर चढ़ाने वालों की भी भीड़ रही। शहर के सभी प्रमुख शिवालयों के साथ शहर और देहात के मंदिरों पर दूर दराज से कांवर लेकर पहुंचे श्रद्धालुओं ने पूरे सेवाभाव के साथ कांवर चढ़ाई। इस दौरान मंदिरों पर उनके लिए विशेष इंतजाम किए गए थे।

किया माता पिता का पूजन

आगरा: कालिंदी विहार स्थित आवासीय विद्यालय में शिवरात्रि पर्व के मौके पर अखिल भारतीय मानवाधिकार संगठन ने मातृ पितृ पूजन दिवस का आयोजन किया। इसमें माता पिताओं को शॉल पहनाकर उनका सम्मान किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि नागरिक सुरक्षा संगठन के उप नियंत्रक जसवंत सिंह ने किया। इस दौरान डिप्टी चीफ वार्डन अभिषेक अग्रवाल, अखिल महावर वैश्य महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पंकज गुप्ता, गजेंद्र वर्मा, सुनील गुप्ता, अशोक गुप्ता, प्रेम बाबू शर्मा, डॉ. अजय कुमार गोयल, करण चौहान, सुमित गुप्ता आदि मौजूद रहे।

गोपेश्वर महादेव मंदिर में हुआ रुद्राभिषेक

महाशिवरात्रि पर भरतपुर हाउस कॉलोनी के गोपेश्वर नाथ महादेव मंदिर में भगवान का रुद्राभिषेक किया गया। पंडित आचार्य मुन्ना मिश्रा, पं. राजेश शास्त्री, पं. शिवम शास्त्री, पं. संजीव शास्त्री व अन्य 11 ब्राह्मणों ने वैदिक रीति रिवाजों से दूध, दही, बेल पत्र, भांग, धतूरा आदि भगवान को अर्पित किया। इस दौरान नीलम महाजन, मधु कपूर, वीना छाबड़ा, आशा कंसल, कंचन आहूजा, वीना बजाज, विवाह मिश्रा, मंजू कंसल, पारूल मिश्रा, स्वाति कपूर आदि मौजूद रहे।

By Jagran