आगरा, जेएनएन। हरियाणा से शराब की खेप लेकर मथुरा के नौहझील की तरफ जा रहे चालक ने शुक्रवार की रात करीब साढ़े दस बजे यमुना पुल बैरियर पर कैंटर को पुलिसकर्मियों पर चढ़ाने की कोशिश की। बैरियर को तोड़कर भाग निकला। पीछा कर रही पुलिस टीम पर फायरिंग कर दी। घेराबंदी कर पुलिस ने आरोपित को दबोच लिया। वहीं दूसरी तरफ छाता पुलिस ने हाईवे पर एक तस्कर को गिरफ्तार कर किया है।

हरियाणा से भारी मात्रा शराब की खेप विभिन्न प्रांतों में भेजी में जा रही है। एसपी देहात आदित्य कुमार शुक्ला ने बताया कि रात को सूचना मिली कि हरियाणा से एक कार और कैंटर शराब की खेप लेकर आ रही है। इस पर शेरगढ़ पुलिस को यमुना पुल और छाता पुलिस को केडी मेडिकल कॉलेज पुलिस चौकी और यमुना पुल पर एसओ शेरगढ़ प्रदीप कुमार, एसआइ अरुण कुमार, नितिन तेवतिया और कांस्टेबल नितिश कुमार, सोनू भाटी, भरत शर्मा और अनुज कुमार को तैनात किया गया। शराब से भरे कैंटर को लेकर चालक छाता से शेरगढ़ की तरफ मुड़ गया। बैरियर लगाकर पुलिस ने कैंटर रोका तो चालक ने पुलिस टीम पर कैंटर को चढ़ाने की कोशिश की और बैरियर तोड़कर भागने लगा। पुलिस टीम ने पीछा किया तो चालक ने पुलिस पर फायरिंग कर दी। घेराबंदी करके पुलिस ने धर्मेंद्र उर्फ किशनपाल पुत्र रामेश्वर दयाल निवासी सारंगपुर सरैया थाना सिविल लाइन इटावा को गिरफ्तार कर लिया। कैंटर में 132 पेटी अंग्रेजी शराब भरी हुई थी। जो अरुणाचल प्रदेश में बिक्री के लिए थी। शराब से संबंधित कोई दस्तावेज ट्रक चालक से नहीं मिले हैं। ट्रक को जब्त कर शराब को बरामद कर लिया है। आरोपित से एक अवैध तमंचा भी बरामद किया है। पूछताछ में बताया कि दिल्ली के हेमंत ने इस शराब को कैंटर में लोड कराया था। सीओ छाता जगदीश कालीरमन ने बताया कि पुलिस की एक टीम केडी मेडिकल कॉलेज पुलिस चौकी के सामने हाईवे पर बैरियर लगाकर चेेकिंग कर रही थी। पुलिस टीम ने कोरला कार को रोका गया। कार में तेरह पेटी शराब भरी थी। मनीष पुत्र गुलाब सिंह निवासी राजपुर थाना मुरथल सोनीपत (हरियाणा) को गिरफ्तार कर लिया। बरामद की गई शराब अरुणाचल प्रदेश मार्का थी।

 

Posted By: Tanu Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस