आगरा, जागरण संवाददाता। दिल्ली से आने वाले देशी और विदेशी पर्यटकों को स्टेशन पर ही 'हाईजैक' करने के लिए लपकों की फौज सक्रिय रहती है। पिछले दिनों हुई सख्ती के चलते अब लपके केवल दो घंटे ही सक्रिय रहते हैं। इसमें सुबह आने वाली तीन टे्रनों पर ही उनकी नजर रहती है। जैसे ही यह ट्रेनें प्लेटफॉर्म पर आती हैं, वैसे ही लपके सक्रिय हो जाते हैं।

दिल्ली से हर दिन बड़ी संख्या में देसी और विदेशी पर्यटक ताजनगरी आते हैं। इसमें अधिकांश पर्यटक सुबह भोपाल शताब्दी, गतिमान और ताज एक्सप्रेस से आकर इनसे ही लौटना पसंद करते हैं। ऐसे में सुबह इन ट्रेनों पर ही लपकों निगाह रहती है। इसमें उनकी पहली पसंद शताब्दी होती है। इसके बाद गतिमान और फिर ताज एक्सप्रेस। तीनों ट्रेनें सुबह आठ से 10 बजे के बीच में आती हैं। ऐसे में आगरा छावनी स्टेशन के बाहर लपके दो घंटे ही सक्रिय रहते हैं। जैसे ही ट्रेनों के आने की एनाउंसमेंट होती है, ये लोग एक्टिव हो जाते हैं। प्लेटफॉर्म से बाहर निकलते ही पर्यटकों के पीछे पड़ जाते हैं। इन तीन गाडिय़ों के बाद लपके यहां से चले जाते हैं।

शिकायत पर ही एसएसपी ने बिछाया था जाल

लपकों द्वारा पर्यटकों को परेशान करने की शिकायत लंबे समय से मिल रही थी। इसके चलते ही गुरुवार को एसएसपी अमित पाठक सुबह गतिमान एक्सप्रेस के टाइम पर ही पर्यटक बनकर प्लेटफॉर्म पर पहुंचे थे। लपकों को पकडऩे के लिए पूरी फील्डिंग लगाई थी, लेकिन इसकी भनक लगते ही लपके भूमिगत हो गए थे।

कुछ दिन रहते हैं भूमिगत

इस तरह के ऑपरेशन चलने के कुछ दिन तक लपके भूमिगत रहते हैं, लेकिन मामला ठंडा होते ही फिर से सक्रिय हो जाते हैं। अधिकांश लपके आसपास की बस्तियों में ही रहते हैं। ऐसे में ट्रेन के टाइम पर सीधे स्टेशन पहुंचते हैं।  

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Tanu Gupta