23 जुलाई को देवशयनी एकादशी के बाद सीधे दिसंबर में होंगे विवाह के मुहूर्त। आगामी सहालग में सिर्फ तीन तिथियों को ही होगा शुभ विवाह का मुहूर्त। आगरा(जागरण संवाददाता): यदि इस साल घर में वैवाहिक कार्य की सोच रहे हैं तो जल्दी तैयारी कर लें। समय कम है और मुहूर्त भी कम हैं। इस वर्ष सिर्फ तीन ही शुद्ध विवाह के मुहूर्त रहेंगे, वो भी सीधे दिसंबर में। 11, 12 और 13 दिसंबर को इस वर्ष विवाह के शुभ मुहूर्त होंगे। ऐसा गुरु अस्त होने के कारण होगा। यहां तक कि 19 नवंबर को देवोत्थान एकादशी पर भी गुरु अस्त रहेगा। 13 दिसंबर को इस वर्ष का अंतिम शुद्ध मुहूर्त होगा। हालांकि 2019 में जनवरी से मार्च तक भरपूर वैवाहिक मुहूर्त होंगे। पंडित किशन वाजपेयी के अनुसार इस वर्ष आषाढ़ में सिर्फ छह, सात और दस जुलाई को ही शुद्ध विवाह के मुहूर्त हैं। इसके बाद नौ दिसबंर को गुरु तारा उदय होने पर विवाह के शुद्ध मुहूर्त होंगे।

अबूझ मुहूर्त में रहेगा जमकर सहालग:

ज्योतिषाचार्य डॉ. शोनू मेहरोत्रा के अनुसार 21 जुलाई को भढ़रिया नवमी और 19 नवंबर को देव प्रबोधनी या देवोत्थान एकादशी पर अबूझ साया रहने के कारण वैवाहिक कार्यक्रम हैं। क्योंकि इस वर्ष मुहूर्त सीमित हैं तो इन दो तिथियों पर शादियां बहुत होंगी। 12 नवंबर को कार्तिक शुक्ल पंचमी को गुरु अस्त होकर आठ दिसंबर को पूर्व में उदय होगा।

सहालग में शुभ मुहूर्त:

जुलाई 2018- 6, 7 और 10

दिसंबर 2018-11,12 और 13

जनवरी 2019- 17,18,22,23,25,26,27,29 और 30

फरवरी 2019- 8, 9,10,19,21,22 और 28

मार्च 2019- 3, 8, 9 और 10अ

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस