आगरा, जागरण संवाददाता। ताजनगरी ने एक बार फिर सुलहकुल की मिसाल पेश की। पुलिस- प्रशासन के अधिकारियों और धर्म गुरुओं की अपील पर लोगों ने घरों में ईद की नमाज अदा की। इस दौरान एडीजी अजय आनंद, आइजी ए.सतीश गणेश, डीएम पीएन सिंह और एसएसपी बबलू कुमार अधीनस्थों के साथ सुबह से ही मिश्रित आबादी वाले इलाकों में लगातार भ्रमण पर रहे। सतर्कता के चलते मिश्रित आबादी वाले इलाकों में तड़के चार बजे से पुलिस और पीएसी तैनात हो गयी थी। अधिकारी सुबह छह बजे से ही सक्रिय रहे।

कोराेना वायरस संक्रमण फैलने से रोकने के लिए पूरे देश में लॉकडाउन है। आगरा रेड जोन में होने के चलते यहां पर सख्ती है। अलविदा जुमा पर पुलिस- प्रशासन की अपील पर लोगों ने घरों में ही नमाज अदा की थी। अधिकारियों ने धर्म गुरुओं के माध्यम से ईद पर भी लोगों से घरों में नमाज पढ़ने की अपील की थी। इसके साथ ही मिश्रित आबादी वाले इलाकों में पुलिस और पीएसी तैनात की गयी थी।मस्जिदों और उसके आसपास पुलिस को अलर्ट रखा गया था।

एडीजी अजय आनंद,आइजी ए.सतीश गणेश, डीएम पीएन सिंह, एसएसपी बबलू कुमार, एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद समेत अन्य अधिकारी ईद पर शहर का जायजा लेने के लिए सुबह छह बजे से ही भ्रमण पर निकले हुए थे। डीएम और एसएसपी ईदगाह पहुंचे, यहां पर सन्नाटा पसरा मिला, कुछ लोग ही नमाज अदा करने पहुंचे थे। वहीं जामा मस्जिद में दस लाेगों को अनुमित दी गयी थी। वहां इतने ही लोग नमाज पढ़ने आए थे। यहां शारीरिक दूरी का पूरा ध्यान रखा गया। इसके अलावा पुलिस ने यहां पर ड्रोन कैमरे से नजर रखी। शहर का जायजा लेने के बाद डीएम और एसएसपी देहात क्षेत्र में भ्रमण पर निकल गए। वहां पुलिस की सतर्कता का जायजा लिया। इस दौरान लोगों से बातचीत भी की।

महामारी के खत्म होने की मांगी दुआ

ईद की नमाज में लोगों ने महामारी के खत्म होने की भी दुआ मांगी। इससे की जानलेवा वायरस से लोगों की जिंदगी महफूज हो सके।

पुलिस ने लगाए ईद मुबारक के पोस्टर

सुलहकुल नगरी के लोगों के साथ ही पुलिस ने भी मिसाल पेश की। उसने जामा मस्जिद के आसपास ईद मुबारक के पोस्टर लगा रखे थे। इससे भी लोगों में पुलिस के प्रति सकारात्मक संदेश गया। 

Posted By: Tanu Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस