मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

आगरा, जागरण संवाददाता। मुकद्दस सफर से अपनों के लौटने का इंतजार कर परिजनों में खुशी की कमजोर हो गई। रिश्तेदार भी उस वक्त मायूस हो गए। जब अपनों की फ्लाइट रद होने की खबर लगी।

आगरा जनपद से हज यात्रा पर गए लोग से शनिवार को अपने वतन लौटने की खुशी में डूबे थे। इनके इस्तकबाल को घरों पर पूरी तैयारी हो गई। दूर-दूर से रिश्तेदार पहुंच गए। लेकिन सऊदी अरब के जेद्दा अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट से उड़ने वाले फ्लाइट रद हो गई। यह फ्लाइट शाम को दिल्ली के इंदरा गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पहुचने थे। इन्हें आने के लिए परिजन भी एयरपोर्ट पहुंच गए। पूरे दिन इंतजार के बाद रात को परिजन देर रात घर वापस लौट गए।

दरअसल आगरा से करीब 367 हज यात्री तीन व चार जुलाई को दिल्ली एयरपोर्ट से रवाना हुए थे। हज का सफर पूरा होने के बाद शनिवार को ये दिल्ली रवाना होने थे, लेकिन एयर इंडिया की फ्लाइट नंबर एआइ-5002 में तकनीकी कमी आने के कारण 420 लोग वहीं फंसे गए। वहां फंसे हाज यात्रियों में से इमरान ने अपने परिजनों ऑडियो भेजकर फ्लाइट में कमी आने की जानकारी दी है। इसके बाद नहीं मिली जानकारी

हाजी इमरान, फरीद, रूकसाना, मोहम्मद इरशाद उर्फ बंटू निवासी मंटोला को लेने के लिए उनके परिजन सुबह दस बजे दिल्ली एयरपोर्ट पहुंच गए थे। जमीअत उलमा-ए-हिद के प्रवक्ता सगीर अहमद ने बताया कि दिल्ली एयरपोर्ट पर पूरे दिन इंतजार करने के बाद आगरा वापस लौट आए हैं। मोहम्मद वाहिद ने बताया कि अब वहां से फ्लाइट रवाना होने के बाद दिल्ली जाएंगे। यहां के हैं हाजी

जेद्दा में फंसे हाजी मेरठ और अलीगढ़ के अलावा आगरा, अछनेरा, मिढ़ाकुर, रुनकता, किरावली के अधिक लोग शामिल हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप