आगरा, जागरण संवाददाता। गुवाहाटी में चल रहे खेलो इंडिया यूथ गेम्स में जिमनास्टिक में एक बार फिर आगरा के खिलाडिय़ों ने दमदार प्रदर्शन किया। आगरा के जिमनास्टों के दम पर यूपी जिमनास्ट टीम मेडल टैली में महाराष्ट्र के बाद दूसरे स्थान पर रही है।

एकलव्य स्टेडियम में जिमनास्टों के लिए मिलने वाली बेहतर सुविधाओं से यूपी लगातार राष्ट्रीय जिमनास्ट प्रतियोगिताओं में परचम लहरा रही है। यह सब आगरा के जिमनास्टों के बेहतर प्रदर्शन के दम पर संभव हो पा रहा है। गुवाहाटी में चल रहे खेलो इंडिया गेम्स में जिमनास्टिक की सभी प्रतियोगिताएं संपन्न हो गई हैं। जिमनास्ट की मेडल टेली में महाराष्ट्र के 40 पदक के मुकाबले यूपी ने 18 पदक के साथ दूसरे स्थान पर जगह बनाई है। यूपी के 18 मेडल में से सात आगरा के जिमनास्टों ने जीते हैं। यूपी के कुल आठ गोल्ड मेडल में से पांच आगरा के नाम हैं। पिछले साल भी इन खेलों में जिमनास्ट में यूपी की टीम में सबसे ज्यादा मेडल आगरा के जिमनास्टों ने ही जीते थे।

जतिन ने कर दिया कमाल

एकलव्य स्टेडियम के हॉस्टल में रहने वाला जिमनास्ट खिलाड़ी जतिन कुमार कन्नौजिया इन खेलों में स्टार बनकर उभरा है। जतिन ने चार गोल्ड, एक रजत व एक कांस्य जीतकर आगरा व यूपी का मान देश भर में बढ़ाया है। जतिन ने पिछले खेलो इंडिया गेम्स में भी स्वर्ण पदक हासिल किया था। नेवी मे सेवारत व यूपी की टीम से खेलने वाले गौरव ने भी यूपी के लिए स्वर्ण पदक हासिल किया।

रिदिमिक होता तो होते पहले नंबर पर

स्टेडियम के जिमनास्टिक कोच राममिलन ने बताया कि एकलव्य स्टेडियम में केवल आर्टेस्टिक जिमनास्टिक का ही अभ्यास कराया जाता है। महिला खिलाडिय़ों द्वारा खेला जाने वाला रिदिमिक जिमनास्टिक यहां नहीं होता। इसमें महाराष्ट्र आगे निकल गया। हमने आर्टेटिक के तो अधिकांश मेडल जीत लिए, लेकिन रिदिमक में पिछड़ गए। आगरा में रिदिमक जिमनास्टिक अभ्यास की सुविधा होती तो यूपी मेडल टैली में पहले स्थान पर होता। 

Posted By: Prateek Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस