आगरा, जागरण संवाददाता। कृषि कानून का विरोध कर रहे किसान संगठनों ने 18 फरवरी को चार घंटे रेल रोकने का ऐलान किया है। इसको लेकर आरपीएफ और जीआरपी अलर्ट हो गई हैं। किसान रेलवे

ट्रैक तक न पहुंच पाएं, इसको लेकर योजना तैयार की जा रही है। आगरा रेल मंडल में आंदोलन को लेकर सुरक्षा कड़ी रहेगी। इसके लिए अतिरिक्त फाेर्स भी मांगा गया है।

किसान संगठनों ने 18 फरवरी को देशभर में चार घंटे ट्रेन रोकने का एेलान किया है। इसको लेकर रेलवे स्टेशनों और रेलवे फाटकों पर सुरक्षा कड़ी करने की योजना बनाई है। सभी स्टेशनों पर गुरुवार सुबह से आरपीएफ और जीआरपी के जवान तैनात रहेंगे। इसके अलावा आरपीएफ को रेलवे ट्रैक की निगरानी के लिए लगाया जाएगा। प्रभारी एसपी जीआरपी मोहम्मद मुश्ताक ने बताया कि किसी भी बाहरी व्यक्ति को स्टेशन पर जाने नहीं दिया जाएगा। कंफर्म टिकट वाले यात्री ही स्टेशन पर जाएंगे। 18 फरवरी के लिए सभी जीआरपी थाना प्रभारियों को अलर्ट कर दिया गया है। ऐसे स्थानों को चिन्हित कर लिया गया है,जहां से रेलवे पर ट्रैक पर जाया जा सकता है, एेसे सभी स्थानों पर जीआरपी के जवानों को तैनात कर दिया गया है। इसके अलावा पीएसी और पुलिस का भी सहयोग लिया जाएगा। ट्रेन परिचालन को बाधित नहीं होने दिया जाएगा।

आरपीएफ भी मुस्तैद

जीआरपी के साथ आरपीएफ भी मुस्तैद है। स्टेशन पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। हर छोटे-बडे़ स्टेशन पर फोर्स लगा दिया गया है। रेल रोको आंदोलन के नाम पर या फिर रेल परिचालन में किसी भी प्रकार की बाधा डालने वालों के खिलाफ रेल अधिनियम के तहत कानूनी कार्रवाई का प्रावधान है। 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021