जागरण संवाददाता, आगरा: बदमाशों को छात्रा का दमखम कमतर आंकना महंगा पड़ा। पर्स लूटकर भागते एक बदमाश को छात्रा ने कॉलर पकड़ जमीन पर पटक दिया। साथी का हाल देख बदमाश बाइक लेकर भाग खड़ा हुआ। उधर, पटकनी खाने के बाद जान बचाकर भागते बदमाश को छात्रा ने सौ मीटर दौड़ाने के बाद दबोच लिया। मौके पर जुटे लोगों ने उसकी धुनाई करके पुलिस को सौंप दिया। पूछताछ के बाद उसके साथी को भी गिरफ्तार कर लिया।

जगदीशपुरा के अवधपुरी निवासी किसान जितेंद्र के परिचित के यहां शनिवार रात को शादी समारोह था। उनकी 19 वर्षीय पुत्री ज्योति राघव भी परिवार के लोगों के साथ शामिल होने जा रही थी। बाइक सवार दो बदमाश उनके पीछे लग गए। मैरिज होम के पास पहुंचते ही एक बदमाश बाइक से उतरकर आया और ज्योति का पर्स लूटकर भागने लगा। इस पर ज्योति ने उसका पीछा करना शुरू कर दिया। बदमाश बाइक पर बैठने की कोशिश करने लगा, इसी दौरान ज्योति ने उसका कॉलर पकड़ लिया, और बाइक से उतारकर जमीन पर पटक दिया।

साथी को पटकनी खाते देख उसका साथी बाइक लेकर भाग गया। उधर, बदमाश ज्योति से किसी तरह खुद को छुड़ाकर भागने लगा। वह छात्रा को चकमा नहीं दे सका, उसने 100 मीटर दौड़ने के बाद बदमाश को राहगीरों की मदद से घेर लिया। उसे दबोचने के बाद भीड़ ने धुनाई कर दी। पूछताछ करने पर बदमाश ने अपना नाम सुभाष और मौके से भागे साथी का नाम गजेंद्र निवासी जय नगर अलबतिया बताया। जितेंद्र ने बताया पर्स में मोबाइल और 2,370 रुपये थे। जिन्हें बदमाश से बरामद कर लिया। पुलिस के मुताबिक दोनों बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है। मुकदमा दर्ज कर जेल भेजा जा रहा है।

पुलिस भर्ती की कर रही है तैयारी

बीएससी द्वितीय वर्ष की छात्रा ज्योति पुलिस भर्ती की तैयारी कर रही है। इसके लिए वह रोज सुबह कई किलोमीटर दौड़ लगाती है। ज्योति के मुताबिक उसका प्रशिक्षण काम आया। लूट करके भागते बदमाशों को लगा कि वह दहशत में आ जाएगी। इसके उलट उसने बदमाश को पटकनी दी तो वह घबराकर जान बचाने की कोशिश करने लगा।

दिन में ई-रिक्शा चालक, रात में लुटेरे

पकड़े गए दोनों बदमाश दिन में ई-रिक्शा चलाते हैं। रात में बाइक से लूट करते थे। हालांकि पूछताछ में बदमाशों ने कहा कि उन्होंने पहली बार लूट की है। पुलिस को आश्ाका है कि दोनों ने लूट की कई घटनाओं को अंजाम दिया है।

By Jagran