आगरा, जागरण संवाददाता। पिता की डांट से नाराज होकर किशोरी ने यमुना में कूदकर जान देने की कोशिश की। गनीमत रही कि यमुना किनारे खड़े युवकों ने उसे देख लिया और उसे सकुशल बाहर निकाल लिया। पुलिस ने परिजनों को बुलाकर किशोरी सौंप दी।
टेढ़ी बगिया के जगजीवन नगर निवासी जूता कारीगर प्रीतम के चार बेटी और दो बेटे हैं। बड़ी बेटी की तबियत खराब है। उसका इलाज चल रहा है। रविवार को सुबह प्रीतम ने उसको किसी बात को लेकर डांट दिया। इससे नाराज होकर वह घर से निकल गई। दोपहर 12 बजे किशोरी ने जवाहर पुल से यमुना नदी में छलांग लगा दी। उसके यमुना में कूदते ही किनारे खड़े तीन युवकों ने उसे बचाने को छलांग लगा दी। इनमें से एक प्रेम सिंह ने किशोरी को सुरक्षित बाहर निकाल लिया। युवकों ने कंट्रोल रूम में सूचना देकर पुलिस को बुला लिया। पुलिसकर्मी किशोरी को पुलिस चौकी ले गए। वहां परिजनों को बुलाकर उसे सौंप दिया।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Prateek Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस