आगरा, जागरण संवाददाता। बैंकोंं और एटीएम केबिन के बाहर हेराफेरी करके लोगों के डेबिट व क्रेडिट कार्ड बदलकर उनके खाते से रकम निकालने वाले गिरोह के सरगना समेत पांच लोगों काे सदर पुलिस ने दबोच लिया। गिराेह के सदस्य कार में चलते थे। इससे कि कोई उन पर शक न करे। वह अलीगढ़ और आगरा मे दर्जनों घटनाओं को अंजाम दे चुके हैं।

इंस्पेक्टर सदर अजय कुमार कौशल ने बताया कि शनिवार को बुंदूू कटरा चौकी क्षेत्र में स्टेट बैंक के पास गिरोह के मौजूद होने की सूचना मिली। इसके बाद पुलिस ने घेराबंदी करके गिरोह के पांचों सदस्यों को कार समेत दबोच लिया। आरोपितों के नाम बाबी, अल्लाराजी, अजरूद्दीन, रियासुद्दीन और मीनू हैं। गिरोह के सरगरना अल्लाराजी और रियासुद्दीन हैं। आरोपितों ने पूछताछ करने पर बताया कि वह लोग कार में चलते हैं। इसके चलते कोई उन पर शक नहीं करता है। वह शहर में कार लेकर घूमते हैं। सुनसान स्थानों पर पड़ने वाले जिनमें गार्ड तैनात नहीं हैं, उन एटीएम पर जाने वालों को निशाना बनाते हैं।

कैश निकालने के लिए आने वालों के पासवर्ड देख लेते हैं। इसके बाद उनके एटीएम कार्ड धोखे से बदल देते हैं।दूसरे एटीएम पर जाकर रकम निकाल लेते थे। गिरोह के सदस्यों ने आगरा और अलीगढ़ में दर्जनों घटनाओं को अंजाम देना कबूल किया। गिरोह ने टप्पेबाजी की कई घटनाअों को भी अंजाम दिया है।वह राहगीरों को अपनी बातों के जाल में उलझाने के बाद उसके जेवरात या रुपये हड़प लेते थे।इंस्पेक्टर अजय कौशल ने बताया कि आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उन्हें जेल भेजा गया है।

गिरफ्तार आरोपित

-अल्लाराजी, मीनू और रियासुद्दीन निवासी गांव नूरपुर थाना टप्पल अलीगढ़

-बाबी निवासी गांव कुराना थाना टप्पल, अलीगढ़

-अजरुद्दीन निवासी मेन बाजार थाना टप्पल के सामने अलीगढ़

ये हुई बरामदगी

अर्टिगा कार, 400 ग्राम नशीला पाउडर, एटीएम कार्ड व पांच हजार रुपये