आगरा, मुकेश कुशवाह। भाजपा के जिला आईटी प्रभारी पर अनुसूचित जाति की युवती को अगवा कर सामूहिक दुष्कर्म कर जबरन शादी करने का आरोप लगा है। एसएसपी आगरा के आदेश पर थाना बरहन में मुकदमा दर्ज किया गया है।

जनपद के थाना बरहन क्षेत्र में एक युवती को भारतीय जनता पार्टी के आईटी प्रकोष्ठ प्रभारी और उसके साथियों पर आरोप लगे हैं कि कार में युवती को अगवा किया गया। इसके बाद साथियों के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया। हैवानियत यही नहीं रुकी जबरन शादी भी कराई गई। ये मुकदमा थाना बरहन में लिखा गया है।

युवती के पिता द्वारा एसएसपी आगरा को दिए गए पत्र में कहा गया है कि उनकी 20 वर्षीय पुत्री घर से कौशल विकास प्रशिक्षण केंद्र पर गई थी। जब उनकी बेटी घर वापस नहीं आई तो तलाश किया गया। 31 मई को परिजनों को सूचना मिली कि उनकी लड़की को गढ़ी बाजरा निवासी भोला गाड़ी में तीन चार लोगों के साथ लेकर गया है। जिसकी सूचना पीड़िता के पिता द्वारा 112 नंबर पर दी गई।

एक जून को मिली युवती

विगत 1 जून को युवती सादाबाद के समीप गांव सरोट में भयभीत अवस्था में युवती मिली। स्वजनों ने युवती से पूछताछ की तो उसने बताया कि उसे आरोपित भोला कुबेरपुर स्थित कौशल विकास प्रशिक्षण केंद्र के बाहर मिला था। गांव लेकर जाने की बात कहकर गाड़ी में बैठा लिया, जिसमें पहले से तीन चार लोग सवार थे। कुछ देर बाद भोला ने कुछ सुंघाकर बेहोश कर दिया। उसके बाद अगवा कर गाजियाबाद ले गए, जहां उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म करने के बाद आर्य समाज मंदिर में शादी कर ली गई।

पिता ने दिया प्रार्थना पत्र

युवती के विरोध करने पर भोला ने कहा वो भाजपा का आईटी जिला प्रभारी है, परिजनों ने थाना बरहन पुलिस से कई बार शिकायत की। लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। पीड़िता के पिता ने एसएसपी आगरा को प्रार्थना पत्र दिया। एसएसपी के आदेश पर 26 जून को भोला सिंह एवं तीन चार अज्ञात लोगों के अतिरिक्त उसके भाई आदि पर मुकदमा दर्ज किया गया है। 

Edited By: Abhishek Saxena