आगरा, जागरण संवाददाता। मुफ्त में ताजमहल देखने की चाहत भारी पड़ रही है। उम्मीद से ज्यादा भीड़ ताजमहल पर उमड़ पड़ी है। लांग वीकेंड में स्मारकों में प्रवेश फ्री होने से शनिवार को ताजमहल में प्रवेश को मारामारी की स्थिति रही। जबरन प्रवेश की कोशिश करते पर्यटकों को साधने के लिए पुलिस को कई बार लाठियां बरसानी पड़ीं।

पश्चिमी गेट, पूर्वी गेट के अलावा शाहजहां गार्डन के पुरानी मंडी स्थित गेट पर शाम ढलने तक लाइनें लगी रहीं। भीड़ में विदेशी पर्यटक, बच्चे व महिलाएं फंस गईं। बच्चे रोते और चिल्लाते रहे। भीड़ प्रबंधन की व्यवस्थाएं ध्वस्त नजर आईं। रविवार को भी यही हाल बने रहने के आसार हैं।

भीड़ को नियंत्रित करने के लिए लाठियां फटकारती पुलिस। 

आजादी का अमृत महोत्सव में भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआइ) ने देशभर के स्मारकों को फ्री किया हुआ है। भीड़ प्रबंधन की व्यवस्थाएं फेल होने पर एएसआइ ने ताजमहल के मुख्य गुंबद को बंद रखने का फैसला शुक्रवार को लिया था। शनिवार को ताजमहल में मुख्य गुंबद पर पर्यटकों को प्रवेश नहीं दिया गया।

उन्हें चमेली फर्श से ही लौटना पड़ा। एएसआइ ने स्मारक के अंदर मुख्य मकबरे को बंद कर व्यवस्था संभाल ली, लेकिन स्मारक के बाहर भीड़ प्रबंधन की सभी व्यवस्थाएं सुबह से शाम तक ध्वस्त नजर आईं। पुलिस ने पश्चिमी गेट के नजदीक बैरीकेडिंग कर पर्यटकों को पूर्वी गेट की तरफ नहीं जाने दिया। यहां लाइनें एडीए की बिल्डिंग तक लगीं।

भीड़ और गर्मी के बीच बेहोश हुए बच्चे को पानी पिलाते पुलिसकर्मी। 

दोपहर में धूप और भीड़ के दबाव में बच्चे बिलखते रहे। बुजुर्गाें को भी परेशानी का सामना करना पड़ा। पूर्वी गेट पर भी लाइन दशहरा घाट के नजदीक तक पहुंच गई। शाहजहां गार्डन के पुरानी मंडी स्थित गेट पर भी भीड़ का दबाव रहा। यहां बच्चे, महिलाएं दब गए। पश्चिमी गेट पर जबरन प्रवेश की कोशिश करते पर्यटकों पर पुलिस ने कई बार लाठियां बरसाईं। उनके लिए ताजमहल का दीदार बुरा अनुभव साबित हुआ।

ताजमहल के बाहर भीड़ को नियंत्रित करने की कोशिश में पुलिसकर्मी। 

एक लाख पर्यटक पहुंचे

शनिवार को करीब एक लाख पर्यटकों ने ताजमहल निहारा। गुरुवार को 70 हजार से अधिक पर्यटक आए थे। पांच अगस्त से स्मारक फ्री हुए थे, तब से शुक्रवार की साप्ताहिक बंदी को छोड़ दें तो प्रतिदिन औसतन 50 हजार से अधिक पर्यटक ताजमहल देखने पहुंचे हैं।

होटलों में नहीं हैं कमरे

शहर के हाेटलों में शनिवार व रविवार के लिए पर्यटकों ने बड़ी संख्या में एडवांस बुकिंग कराई थीं। सितारा होटलों ने कमरों का किराया कई गुना बढ़ा दिया है। 15 से 22 हजार रुपये तक वह कमरे का किराया चार्ज कर रहे हैं।

भीड़ के आगे ताजमहल में व्यवस्थाएं धवस्त हो चुकी हैं, रेलिंग फांदकर अंदर जल्दी घुसने की जुगत में युवक। 

मकबरा बंद होने से मिली निराशा

विदेशी पर्यटक पूरा स्मारक देखना पसंद करते हैं। मुख्य मकबरा तीन दिन के लिए बंद किए जाने से उन्हें निराशा हाथ लगी है।

पूर्वी गेट पर भिड़े सिपाही

ताजमहल पर भीड़ प्रबंधन के लिए पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई गई है। शनिवार दोपहर पूर्वी गेट पर पर्यटकों की एंट्री को लेकर दो सिपाही आपस में भिड़ गए। बताया जा रहा है कि कुछ सिपाही गाइडों के साथ मिलीभगत की वजह से पर्यटकों को लाइन में लगाने के बजाय सीधे प्रवेश दे रहे हैं। इसी को लेकर विवाद हुआ था।

Edited By: Prateek Gupta