जागरण टीम, आगरा। चार दिन हुई बारिश ने फतेहाबाद कस्बे के हालात खराब कर दिए हैं। न्यू हनुमान नगर में ओवरफ्लो हुए तालाब का पानी भर गया है। एक घर में चार फीट पानी भर गया है। स्वजन बाहर तक नहीं निकल पा रहे। तालाब के किनारे बने इस मकान के मालिक देवेंद्र शर्मा ने बताया कि बारिश में अक्सर ही उनके घर में पानी भर जाता है। निकलने के लिए भी रास्ता नहीं रहता। मुहल्ले के लोगों को भी जलभराव के चलते परेशानी का सामना करना पड़ता है। देवेंद्र शर्मा के स्वजन को संक्रमण फैलने का खतरा सता रहा है। नगर पंचायत अध्यक्ष आशा देवी चक ने बताया कि तालाब से पानी की निकासी के लिए दो पंपसेट लगाए गए हैं। जल्द ही पानी की निकासी सुनिश्चित करा दी जाएगी। मकान की छत गिरी, स्वजन सुरक्षित

जागरण टीम, आगरा। शुक्रवार को हुई झमाझम बारिश में बरहन के मुहल्ला ताल निवासी दीवान सिंह जादौन के घर की छत गिर गई। हालाकि उस समय घर के सदस्य बाहर के कमरे में सो रहे थे। दीवान सिंह के पुत्र कल्लू के मुताबिक छत गिरने से हजारों का माल दबकर खराब हो गया। चंबल नदी का जलस्तर 116 मीटर पहुंचा

जागरण टीम, आगरा। चंबल नदी का जलस्तर धीरे-धीरे कम हो रहा है। वर्तमान में नदी 116 मीटर पर बह रही है। तीन दिन पूर्व नदी 122 मीटर को छू गई थी। इससे नदी किनारे रहने वाले लोगों को बाढ़ का खतरा सताने लगा था। प्रशासन ने भी राजस्व टीम को अलर्ट कर दिया था। शनिवार को दूसरे दिन जलस्तर में कमी दर्ज की गई। फतेहपुर सीकरी से राजस्थान जोड़ने वाली सड़क जलमग्न

जागरण टीम, आगरा। सीमावर्ती राज्य राजस्थान को जोड़ने वाली देवनारी सिकरौदा मार्ग पर दो से तीन फीट पानी भर गया है। पानी की निकासी नहीं होने के कारण लोगों को काफी मुश्किल का सामना करना पड़ रहा है। क्षेत्र पंचायत सदस्य रमाकांत और ग्रामीणों ने जिलाधिकारी से शिकायत कर समस्या के समाधान की मांग की है। शिकायत में लिखा है कि फतेहपुर सीकरी से मई बुजुर्ग, देवनारी होकर राजस्थान को जोड़ने वाला मार्ग जलमग्न हो गया है। इससे क्षेत्रीय ग्रामीणों में संक्रमण फैलने का खतरा बना हुआ है। उन्होंने समस्या के समाधान की मांग की है। स्वास्थ्य केंद्र जलमग्न, मरीजों को हो रही दिक्कत

जागरण टीम, आगरा। भाजपा के जिला मंत्री लाल सिंह परिहार ने शनिवार को पिनाहट सीएचसी प्रभारी डा. विजय सिंह से मुलाकात की। जिला मंत्री ने उन्हें बसई अरेला के स्वास्थ्य केंद्र के हालात की जानकारी दी। बताया कि बारिश के पानी से केंद्र जलमग्न हो गया है। इससे मरीजों को परेशान होना पड़ रहा है। बड़ी समस्या प्रसूताओं के तीमारदारों को झेलनी पड़ती है। उन्होंने जलभराव की समस्या के समाधान की मांग की। सीएचसी प्रभारी ने बताया कि इसकी जानकारी उच्चाधिकारियों को दे दी गई है। समस्या का जल्द समाधान कराया जाएगा।

Edited By: Jagran