आगरा, जागरण संवाददाता। यातायात नियमों के पालन करने की आदत नहीं है तो इसे जिंदगी का हिस्सा बना लें। अब 11 नवंबर से दोपहिया वाहन के पीछे बैठी सवारी के लिए भी हेलमेट पहनना अनिवार्य होगा। ट्रैफिक पुलिस द्वारा लगातार की जा रही कार्रवाई के बावजूद लोग इसे लेकर पूरी तरह से जागरूक नहीं है। मोटर वाहन कानून को सरकार ने अधिनियम में संशोधन कर और भी ज्यादा सख्त कर दिया है। कई मामलों में जुर्माने की रकम कई गुना बढ़ा दी गई है। दैनिक जागरण द्वारा आयोजित प्रश्न पहर कार्यक्रम में एसपी ट्रैफिक प्रशांत कुमार ने फोन पर लोगों की शिकायतें सुनीं और उनका समाधान किया।

कुछ शिकायतें तत्काल निस्तारित हुईं तो कुछ मामलों में शिकायतकर्ताओं को कार्यालय आने के लिए कहा गया। उन्होंने कहा यातायात के नियमों को अपना लें, अन्यथा बड़ा जुर्माना देने को तैयार रहें। क्योंकि नियमों का उल्लंघन करने पर चौराहे पर खड़े ट्रैफिक पुलिस के सिपाही के साथ ही स्मार्ट सिटी के तहत लगे सीसीटीवी कैमरों की नजर भी आप पर है।

शिकायतें

- एत्मादपुर से बरहन रोड पर डग्गेमार वाहन चलते हैं। इनके चलते जाम लगता है, हादसे होते हैं।

सोनू त्यागी,बरहन

जवाब: संबंधित थाना पुलिस को निर्देशित करेंगे कि वह इन डग्गेमार वाहन चालकों के खिलाफ कार्रवाई करे।

- मदिया कटरा रेलवे के पुल तिराहे पर अक्सर जाम लगता है। पुल 135 साल पुराना है। सड़क काफी संकरी है, इससे सारा दिन विशेषकर स्कूलों की छुट्टïी के समय जाम की स्थिति विकट हो जाती है।

तिलक राज भाटिया, शुभम अपार्टमेंट कैलाशपुरी

जवाब: इस समस्या के स्थायी समाधान का प्रयास किया जा रहा है। इसके लिए मदिया कटरा-लोहामंडी मार्ग पर वनवे ट्रैफिक सिस्टम को प्रभावी तरीके से लागू किया जाएगा।

- रामनगर से शंकरगढ़ पुलिया पर लगने वाले साप्ताहिक रविवार बाजार के चलते वहां भीषण जाम लगता है। जयपुर से आने वाले पर्यटकों के वाहन भी जाम में फंसते हैं। साप्ताहिक बाजार को यदि वहां से शंकरगढ़ पुलिया-अलबतिया मार्ग पर शिफ्ट कर दिया जाए। इससे जाम से मुक्ति मिल सकेगी।

ओम प्रकाश, बालाजीपुरम

जवाब: नगर निगम से इस संबंध में बातचीत की जाएगी। जाम नहीं लगे इसके लिए संबंधित थाने को निर्देशित किया जाएगा कि वह हर सप्ताह वहां पर अतिरिक्त पुलिसकर्मी तैनात करें।

-लाल किले से बिजलीघर जाने वाले मार्ग पर डग्गेमार वाहनों के खड़े होने से जाम लगा रहता है।

पिंकी राज, रकाबगंज

जवाब: संबंधित थानों की मदद से ट्रैफिक पुलिस डग्गेमार वाहनों के खिलाफ कार्रवाई करेगी।

-राजामंडी बाजार के अंदर चौराहे पर ठेल और हलवाइयों की दुकानों पर जमा भीड़ से जाम लगता है। स्कूल की छुट्टी के समय बच्चों को इससे दिक्कत होती है।

हरेंद्र गुप्ता, राजामंडी

जवाब: चौराहे को ठीक कराया जाएगा। लोहामंडी थाने को निर्देश दिया है कि वह अतिक्रमण और जाम की समस्या का निदान करे।

-शहर में चल रहे ऑटो चालक यातायात नियमों का पालन नहीं करते। कुछ कहने पर सवारियों से मारपीट पर उतारू हो जाते हैं।

मनोज कुमार गुप्ता, फतेहाबाद

जवाब: ऐसे ऑटो चालकों के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है। उन्हें चिन्हित करके उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

-बाइक में मॉडीफाई साइलेंसर और हूटर लगाकर चलने वाले लोगों से कॉलोनियों के बच्चे और महिलाएं परेशान हैं। गोली चलने जैसी आवाज से कॉलोनी वाले अक्सर लोग दहशत में आ जाते हैं।

वीरेंद्र कुमार शर्मा, आवास विकास कॉलोनी सिकंदरा

जवाब: इस तरह की बाइक के खिलाफ अभियान चलाया जाएगा। पकड़े जाने पर उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

-ऑटो वालों ने किराया दस रुपये से बढ़ाकर 15 कर दिया है। मगर, सवारियां कम नहीं की हैं। पहले की तरह अधिक सवारियां बैठा रहे हैं।

देवेश जैन, शमसाबाद

जवाब: किराया बढ़ाने के बाद भी निर्धारित से अधिक सवारियां बैठाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

-मेरी गाड़ी का गलत चालान आ गया है। नंबर किसी और का है, जबकि चालान पर पता मेरा लिखा है।

-पीके शर्मा, किशोरपुरा

जवाब: संबंधित थाने में जाकर प्रार्थना पत्र दें, इसके अलावा ट्रैफिक कार्यालय में भी अपनी शिकायत करें। आपकी समस्या का निदान होगा।

-टेंपो वाले जलेसर रोड पर जाम लगाते हैं। वाहनों को सामने ऑटो खड़ा कर देते हैं, इससे हादसे भी होते हैं।

सुशील कुमार, टेड़ी बगिया

जवाब: ट्रैफिक और संबंधित थाने की पुलिस मिलकर ऐसे ऑटो चालकों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे। ऑटो को सीज किया जाएगा।

-रोड पर चलने वाले कई वाहनों पर पुलिस का निशान होता है। वह यातायात नियमों का उल्लंघन करते हैं।

वीके दुबे, नेहरू एन्क्लेव

जवाब: नंबर प्लेट पर पुलिस या अन्य किसी संस्था का चिन्ह एवं लोगो लगाने वाले वाहन चालकों के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है।

-मेरा बिना हेलमेट का चालान आया था। जो फट गया है, किस तरह से चालान जमा करूं।

शशिकांत शर्मा, सैंया

जवाब: जिस कार्यालय का चालान है, वहां जाकर अपनी गाड़ी का नंबर बताकर चालान शुल्क जमा करा सकते हैं। इसके अलावा ऑनलाइन चालान भी जमा करा सकते हैं।

-रुई की मंडी से चिल्ली पाड़ा जाने वाले रास्ते पर अतिक्रमण के चलते जाम लगता है।

हाशिम, शाहगंज:

जवाब: थाने और ट्रैफिक पुलिस द्वारा जाम नहीं लगे यह सुनिश्वित किया जाएगा।

-मेरे पास कार है, लेकिन बिना हेलमेट के पांच बार चालान आ चुका है।

शांति स्वरूप, सदर बाजार

जवाब: संबंधित थाने में प्रार्थना पत्र दें, हो सकता है कि कोई आपके वाहन के नंबर का दुरुपयोग कर रहा हो। ट्रैफिक पुलिस भी अपने स्तर से इस चालान के बारे में छानबीन कर रही है।

जागरण के सवाल

सवाल एक: दोपहिया वाहन पर पीछे बैठने वाली सवारी के लिए भी हेलमेट पहनना कब से अनिवार्य होगा।

एसपी ट्रैफिक: दोपहिया वाहन चालकों के लिए 11 नवंबर से हेलमेट पहनना अनिवार्य हो जाएगा। इसका उल्लंघन करने वालों का चालान किया जाएगा।

सवाल दो: गलत और भ्रामक नंबर प्लेट लगाने वाले वाहन चालकों के खिलाफ क्या कार्रवाई की जा रही है।

एसपी टै्रफिक: गलत और भ्रामक नंबर प्लेट लगाने वाले वाहन चालकों के खिलाफ अभियान चलाया जाएगा। इन पर स्मार्ट सिटी योजना के तहत सीसीटीवी से निगरानी रखी जा रही है। ऐसे वाहन चालकों के पकड़े जाने पर उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

सवाल तीन: महानगर बसें टाइम टेबिल से नहीं चलतीं है। निर्धारित स्टापेज पर भी नहीं रुकतीं।

एसपी ट्रैफिक: महानगर बस चालकों को टाइम टेबिल का पालन करने और निर्धारित स्टापेज पर रुकने के लिए रोडवेज अधिकारियों से बातचीत की जाएगी। इससे कि यात्रियों को असुविधा नहीं हो। उन्हें समय पर बस उपलब्ध हो, यह सुनिश्चित करने की कोशिश की जाएगी।

सवाल चार: चौराहों पर 100 मीटर तक नो पार्किंग जोन घोषित किया गया था। अतिक्रमण को हटाया गया था। मगर, कुछ चौराहों पर इसका पालन नहीं हो रहा है।

एसपी टै्रफिक: चौराहों के 100 मीटर तक पर नो पार्किंग जोन और अतिक्रमण मुक्त कराने के लिए कोना छोड़ो अभियान चलाया गया है। प्रतिबंधित दायरे में वाहन खड़ा करने वाले चालकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

सवाल पांच: एमजी रोड पर नो एंट्री में भी वाहनों के चलते की शिकायतें आ रही हैं।

एसपी ट्रैफिक: एमजी रोड और फतेहाबाद मार्ग शहर की लाइफ लाइन और प्रमुख मार्ग हैं। इन रोड पर नो एंट्री एवं प्रतिबंधित वाहन चलाने वालों पर कार्रवाई होगी।

सवाल छह: ऑटो चालकों के लिए ड्रेस अनिवार्य की गई थी। मगर, अधिकांश चालक इसका पालन नहीं कर रहे।

एसपी टै्रफिक: बिना डे्रस वाले चालकों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही ओवरलोडिंग और निर्धारित रूट पर नहीं चलने वाले ऑटो चालकों के खिलाफ भी कार्रवाई होगी। 

Posted By: Tanu Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप