आगरा, जागरण संवाददाता। हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के परीक्षा फार्म भरने से वंचित विद्यार्थियों को उप्र माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) ने एक और मौका दिया है। वह आठ नवंबर तक संस्थागत विद्यार्थी के रूप में परीक्षा फार्म भर सकते हैं।

मंडलीय संयुक्त शिक्षा निदेशक डा. मुकेश अग्रवाल ने बताया कि बोर्ड सचिव दिब्य कांत शुल्क ने आदेश किया है कि विद्यार्थी 100 रुपये विलंब शुल्क देकर आठ नवंबर तक संस्थागत हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के लिए आवेदन कर सकते हैं। पहले अंतिम तिथि 19 अक्टूबर थी। कक्षा नौवीं और 11वीं के विद्यार्थियों के अग्रिम पंजीकरण भी 50 रुपये विलंब शुल्क लेकर आठ नवंबर तक किए जाएंगे। उसकी फीस कोषागार में एकमुश्त जमा कराकर पंजीकरण शुल्क की सूचना व विद्यार्थियों का शैक्षिक विवरण बोर्ड वेबसाइट पर आनलाइन अपलोड किया जाएगा। यह है प्रक्रिया

- आठ नवंबर मध्यरात्रि तक कोषागार में जमा परीक्षा शुल्क की सूचना व विद्यार्थियों का शैक्षिक विवरण बोर्ड वेबसाइट पर आनलाइन अपलोड होगा।

- नौ से 14 नवंबर मध्यरात्रि तक विद्यार्थी के आनलाइन अपलोड विवरण की जांच व संशोधन होगा। नए आवेदन नहीं किए जाएंगे।

- 18 नवंबर तक पंजीकृत विद्यार्थियों की फोटोयुक्त नामावली व कोषपत्र की एक प्रति बोर्ड के क्षेत्रीय कार्यालय में जमा कराई जाएगी। पिछले साल यह थी स्थिति

यूपी बोर्ड परीक्षा में पिछले वर्ष जिले के 903 स्कूलों के 1,22,491 विद्यार्थियों ने पंजीकरण कराया था। हाईस्कूल के 65,564 विद्यार्थी थे, जिनमें 38,657 बालक व 26,907 बालिकाएं थीं। वहीं इंटरमीडिएट में 56,927 विद्यार्थी थे, जिनमें 34,097 बालक और 22,830 बालिकाएं थीं। इस वर्ष संख्या बढ़ने की उम्मीद है। चूंकि इस बार कोरोना काल में बगैर परीक्षा दिए ही ज्यादातर विद्यार्थी पास कर दिए गए हैं।

Edited By: Jagran