आगरा, जागरण संवाददाता। दयालबाग में भगत रेस्टारेंट के मालिक और पड़ोसी परिवार के बीच मंगलवार रात विवाद हो गया। इस दौरान रेस्टारेंट में भी तोड़फोड़ की गई। रेस्टारेंट मालिक ने हमले का आरोप लगाया। जबकि दूसरे पक्ष ने भी मारपीट का आरोप लगाया है। मारपीट में रेस्टोरेंट मालिक और उनकी पत्नी के चोट आईं हैं। वहीं दूसरी ओर से भी एक व्यक्ति चोटिल है। पुलिस ने दोनों पक्ष के तीन लोगों का मेडिकल कराया है।

दयालबाग में प्रदीप कुमार भगत का घर के बाहर रेस्टोरेंट है। प्रदीप के मुताबिक, पहले रेस्टोरेंट घर के पास स्थित रामवीर चौधरी की दुकान में था। दो माह पहले उन्होंने दुकान खाली कर दी। अब घर के बाहर ही भाई रेस्टोरेंट चलाते हैं। इससे पूर्व के दुकान मालिक का परिवार रंजिश मानता है। वह पड़ोस में ही रहते हैं। रात दस बजे प्रदीप रेस्टोरेंट पर बैठे थे। आरोप है कि तभी रामवीर के भाई धर्मवीर आदि आ गए। उन्होंने गार्ड सुरेश चंद से अभद्रता की। उसके विरोध पर हमला बोल दिया। उनके साथी भी आ गए। उन्होंने तोड़फोड़ कर दी। बचाने आए प्रदीप और उनकी पत्नी दीप्ति को भी पीटा। वो घायल हो गईं।

वहीं रामवीर सिंह किसान नेता है। उनके बेटे सौरभ चौधरी ने बताया कि प्रदीप कुमार भगत पर दुकान का किराया बकाया है। उन्होंने दुकान भी खाली कर दी। अब उनकी दुकान में एक अन्य रेस्टोरेंट चल रहा है। इससे प्रदीप कुमार रंजिश मान रहे हैं। चाचा धर्मवीर चौधरी टहल रहे थे। तभी प्रदीप कुमार भगत और कर्मचारी आ गए। उन्होंने चाचा से मारपीट कर दी।

इंस्पेक्टर न्यू आगरा भूपेंद्र कुमार बालियान का कहना है कि रेस्टोरेंट मालिक और रामवीर पक्ष ने एक-दूसरे पर मारपीट के आरोप लगाया है। तहरीर मिलने पर मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

Edited By: Jagran