आगरा, जागरण संवाददाता। जिला अस्पताल में चार दिन से भूख हड़ताल कर रहे किसानों की हालत बिगड़ती जा रही है। इन किसानों ने 48 घंटे में अगर इनर रिग रोड की लैंड पार्सल जमीन घोटाले के दोषियों के नाम उजागर नहीं करने पर जल भी त्यागने की चेतावनी दी है।

इनर रिग रोड की लेंड पार्सल की जमीन में हुए घोटाले के दोषियों के नाम जांच के बाद भी दबाए रखने पर आक्रोश जताने और उन्हें सार्वजनिक करने की मांग लेकर सोमवार को कलक्ट्रेट पहुंचे किसानों की हालात बिगड़ने पर उन्हें उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जिला अस्पताल में मंगलवार शाम से पांच किसानों ने अन्न त्याग दिया था। एक किसान की हालत अधिक बिगड़ने पर उन्हें भोजन करा दवाई दी गई थी, लेकिन चार किसान अपनी मांगों पर अड़े हुए हैं। उनका कहना है कि दोषियों के नाम क्यों दबाए जा रहे हैं और जांच रिपोर्ट आने के बाद भी कार्रवाई क्यों नहीं हो रही है। किसान श्याम सिंह चाहर, लाखन सिंह त्यागी, सोमवीर यादव, रामगोपाल शर्मा ने ऐलान कर दिया है कि अगर अगले 48 घंटे में दोषियों के नाम सामने नहीं लाए गए और उनके विरुद्ध कार्रवाई की प्रक्रिया शुरू नहीं की गई तो वे जल भी त्याग देंगे। शुक्रवार को भी किसानों के हालचाल जानने के लिए जिला अस्पताल पहुंचने वालों की भीड़ रही। सपा, रालोद सहित भाजपा के नेता भी समर्थन देने जिला अस्पताल पहुंच रहे हैं।

उधर, जिला अस्पताल में हालचाल जानने पहुंचे रालोद के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष चौधरी रामवीर सिंह ने ऐलान किया है कि अगर नामों को उजागर नहीं किया गया तो सोमवार को कमिश्नरी का घेराव किया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस