आगरा, जेएनएन। सोमवार सुबह कासगंज के पटियाली- अलीगंज हाईवे पर लुटेरों ने दुस्साहसिक वारदात को अंजाम दिया। बकरा कारोबारी को लूटने का प्रयास किया। विरोध पर गोली मार दी। इस दौरान चीख-पुकार सुन कर आसपास के ग्रामीण पहुंचे तो खुद को घिरता देख लुटेरे भाग गए। कारोबारी की जांघ में गोली लगने पर अस्पताल में भर्ती कराया है।

दरियावगंज निवासी महावीर सिंह बकरा कारोबारी है। सोमवार को अलीगंज एटा में पैंठ लगती है। वह बकरा खरीदने के लिए डेढ़ लाख रुपये लेकर घर से निकला। फाटक पार करते ही अपाचे सवार तीन बदमाशों ने उसका पीछा शुरू कर दिया। महावीर के बाइक न रोकने पर उन्होंने ढकपुरा के निकट ओवरटेक कर धक्का मार कर महावीर की बाइक को गिरा दिया। लूट का विरोध करने पर लुटेरों ने छीना- झपटी की तो कारोबारी भी उनसे भिड़ गया। इस पर एक बदमाश ने महावीर के गोली मार दी। चीख- पुकार एवं शोरगुल सुन कर आस-पास खेत में काम कर रहे ग्रामीण भी सड़क पर दौड़कर आए। खुद को घिरता देख कर लुटेरे फायरिंग करते हुए भाग गए। मौके पर थाना पटियाली पुलिस पहुंची। पुलिस ने लुटेरों की तलाश में नाकाबंदी की, लेकिन कोई पकड़ में नहीं आया।

कारोबारी के पहचान के तो नहीं थे युवक

लूट का प्रयास करने वाले बदमाश तीन थे। इनमें से बाइक चलाने वाला हेलमेट नहीं पहने हुआ था, जबकि बाकी दो लुटेरे हेलमेट पहने हुए थे। ऐसे में माना जा रहा है कि बाकी दोनों कहीं कारोबारी के परिचित तो नहीं थे, जो अपनी पहचान छिपाना चाहते थे।

रेलवे फाटक के बाद से रोकने का प्रयास

लुटेरे दरियावगंज से ही कारोबारी के पीछे लगे हुए थे। रेलवे स्टेशन के निकट फाटक को पार करने के बाद से ही कारोबारी को रोकने का प्रयास किया। इस पर कारोबारी ने गाड़ी दौड़ाई। ढाई किमी तक लुटेरे पीछा करते रहे, इसके बाद में ओवरटेक कर गाड़ी दौड़ाई। 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस