आगरा, जागरण संवाददाता। वर्चुअल दुनिया में मित्रता की राह में बड़े धोखे हैं। दोस्त बनकर घूमने के लिए आमंत्रित करने वाले धोखा देकर भाग जाते हैं। आंध्र प्रदेश के युवक के साथ भी कुछ यही हुआ। मथुरा के युवक ने फेसबुक पर दोस्ती की। उसे आगरा घूमने पर मुलाकात के लिए कहा। जिसके बाद होटल में दारू पार्टी के बाद युवक की सोने की चेन और अंगूठी लेकर भाग गया। दस दिन से धाेखेबाज दोस्त को तलाश रहे युवक ने मामले में पुलिस में शिकायत की है।

छह महीने पहले की दोस्ती

मामला आंध्र प्रदेश के जिले कोनसीम के गांव गन्नवरम मंडल के रहने वाले श्रीकाकुलपु सुरेंद्र का है। सुरेंद्र के अनुसार वह पूर्व में कई बार आगरा घूमने आ चुके थे। छह महीने पहले फेसबुक पर उनकी दोस्ती सुशांत नामक के युवक से हुई। सुशांत ने बताय कि वह मथुरा का रहने वाला है। दाेनों के बीच फेसबुक पर बातचीत होने लगी। इस बीच सुशांत ने पूछा कि वह आगरा कब आएगा।

ये भी पढ़ें...

Good News from Agra : सेंटर स्कूल में दस हजार से ज्यादा पदों के लिए भर्तियों की तैयारी, 5 से हो सकते हैं आवेदन

आगरा के होटल में रुका पीड़ित

श्रीकाकुलपु के अनुसार उन्होंने नवंबर में आगरा आने की बताया। जिस पर सुशांत कहने लगा कि वह उससे मुलाकात करना चाहता है। वह जब भी आगरा घूमने आए तो उससे फोन कर देता। वह उससे मिलने यहां आ जाएगा। श्रीकाकुलपु ने पुलिस को बताया कि वह 20 नवंबर को आगरा घूमने आए थे। ताजगंज के एक होटल में रुके थे। उन्होंने दोस्त सुशांत को फोन किया। उसे यहां आने की जानकारी दी। जिस पर सुशांत उससे मिलने होटल पर आया।

ये भी पढ़ें...

Worlds AIDS Day 2022: HIV पाजिटिव होने के बाद इस तकनीक से बच्चे हुए निगेटिव, 18 महीने होता है ट्रीटमेंट

होटल में सुशांत ने दी थी पार्टी

यहां सुशांत ने उससे पार्टी दी। उसे कमरे पर शराब पिलाने के बाद बेसुध कर दिया। जिसके बाद उसकी सोने की चेन और अंगूठी लेकर भाग गया। जिसकी कीमत 70 हजार रुपये से अधिक है। देर रात उसे होश आया तो सुशांत गायब था।

साइबर अपराध से बचने के लिए जरूरी हैं ये सावधानियां

  • साइबर क्राइम से बचने के लिए कुछ छोटी-छोटी सावधानियां जरूरी हैं।
  • साइबर एक्सपर्ट पंकज कुमार का कहना है कि अपने मोबाइल को अपडेट रखें।
  • अंजान नंबर से आए किसी भी लिंक को क्लिक न करें।
  • फेसबुक पर थर्ड पार्टी एप्स का इस्तेमाल करने में हमेशा सावधानी बरतें।
  • थर्ड पार्टी एप्स के साथ अपना डाटा शेयर करने से पहले उसकी पहचान करना जरूरी है।
  • अपनी फेसबुक प्रोफाइल पर प्राइवेसी सेटिंग लगाएं।
  • अगर प्रोफाइल पर प्राइवेसी नहीं लगाई तो फोटो पोस्ट करते वक्त प्राइवेसी का खास ख्याल रखें।
  • समय-समय पर अपने पासवर्ड में बदलाव करते रहें। कभी भी अपनी जन्मतिथि, कार-बाइक या गाड़ी का नंबर पासवर्ड न बनाएं।
  • अगर साइबर क्राइम का शिकार हुए हैं तो आईटी एक्ट के तहत अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट के मुताबिक, कुछ महिलाएं पल-पल की तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर करती हैं। कभी भी अपने बेहद निजी पलों की तस्वीरों को फेसबुक या सोशल मीडिया पर साझा करने से पहले प्राइवेसी का ख्याल रखें। साइबर क्राइम करने वाले आपकी हर गतिविधि पर नजर रखते हैं।

मोबाइल भी कर लिया बंद

उसने सुशांत को तलाशने का प्रयास किया। उसका पता नहीं चला। उसने अपना मोबाइल भी बंद कर लिया था। पीड़ित ने मामले में एसपी प्रोटोकाल को प्रार्थना पत्र दिया था। उन्होंने ताजगंज थाने को आरोपित के विरुद्ध कार्रवाई के निर्देश दिए।

Edited By: Abhishek Saxena

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट