आगरा, जागरण संवाददाता। 'शर्मनाक: ताजमहल के आसपास जिस उच्च कोटि की सफाई होनी चाहिए, वह नहीं हो रही है। संसद भवन की सफाई करने वाली कंपनी भारतीय विकास ग्रुप (बीवीजी) फेल साबित हुई है। चार माह से ताज के आसपास भी सफाई की रस्म अदायगी की जा रही है।' कुछ इन्हीं शब्दों के साथ मेयर नवीन जैन ने सदन में अपनी बात रखी और सफाई व्यवस्था में फेल रहने पर नगर निगम और बीवीजी के अफसरों को आड़े हाथ लिया। मेयर ने घोषणा की कि सफाई व्यवस्था के लिए विशेष सदन बुलाया जाएगा।

नगर निगम का 12वां सदन सोमवार दोपहर 12.40 बजे शुरू हुआ। तब सदन में 45 पार्षद मौजूद थे। पार्षद रवि माथुर ने डोर-टू-डोर कूड़ा कलेक्शन में हुए खेल के सुबूत रखे। मामले की जांच अपर नगरायुक्त विनोद कुमार कर रहे हैं। पार्षद का आरोप था कि चार कंपनियों ने खेल किया है। पुराने शहर में ब्लॉक दिखाए गए हैं। भवन स्वामियों के नाम, पता और मोबाइल नंबर गलत दिए हैं। इसके बाद पार्षदों ने जमकर हंगामा किया। मेयर ने किसी तरीके से पार्षदों को शांत कराया।

वित्त अधिकारी ने सदन को जानकारी दी कि जून 2019 से कोई भुगतान नहीं किया गया है, सिर्फ बीवीजी को किया जा रहा है। पार्षद राकेश जैन, अनुराग चतुर्वेदी ने बीवीजी (ताज के आसपास दो किमी की सफाई के लिए जिम्मेदार) द्वारा ठीक से काम न करने की बात कही। कार्यवाहक नगरायुक्त की रिपोर्ट को सदन में रखा गया। इस रिपोर्ट में भी ठीक से सफाई न होने की बात कही गई है। इसके बाद हंगामा करते हुए पार्षद डायस के पास पहुंच गए।

मेयर ने कहा कि डोर-टू-डोर कूड़ा कलेक्शन में अभी तक 75 वार्डो की जांच हुई है, जबकि 25 वार्डो की जांच चल रही है। जो भी सुबूत हैं जांच कमेटी को उपलब्ध कराए जाएं। उन्होंने यह भी घोषणा की कि सफाई व्यवस्था के लिए विशेष सदन बुलाया जाएगा। सदन की कार्यवाही के दौरान पर्यावरण अभियंता राजीव राठी मोबाइल पर बात कर रहे थे, मेयर ने इसपर नाराजगी जाहिर की। उन्होंने कहा कि सदन में मोबाइल को बंद करके रखें। पार्षद रवि शर्मा ने मीनाक्षीपुरम में नाला निर्माण की मांग रखी। इस दौरान कार्यवाहक नगरायुक्त केबी सिंह, अपर नगरायुक्त विनोद कुमार, जीएम जल संस्थान आरएस यादव मौजूद रहे।

हैंगिंग डस्टबिन लगाने में खेल

सदन में पार्षद शिरोमणि सिंह ने हैंगिंग डस्टबिन की गुणवत्ता पर सवालिया निशान लगाया। कहा कि 14300 रुपये से गीला और सूखा कचरा रखने के डस्टबिन लगाए जा रहे हैं, जबकि इनकी कीमत तीन हजार रुपये के करीब है। इस पर मेयर ने जांच के आदेश दिए।

शहर में सीवर की बढ़ रही समस्या

पार्षद राजेश प्रजापति ने शहर में सीवर की समस्या को उठाया। जिसका सभी पार्षदों ने समर्थन किया और निराकरण की मांग की।

तीन वार्डो से मिटा बाल श्रम का कलंक

नए सवेरा अभियान का असर दिखना शुरू हो गया है। नगर निगम के तीन वार्ड घटवासन, टेढ़ी बगिया, ईदगाह से बाल श्रम का कलंक मिट गया है। श्रम विभाग की ओर से तीनों वार्ड के पार्षद हरी कुमारी, होरी लाल, कमलेश को सम्मानित किया गया। मेयर ने बाल श्रम कलंक मिटाने के लिए सभी के सहयोग की अपील की। इस दौरान श्रम प्रवर्तन अधिकारी सुप्रिया, सोमा जैन मौजूद रहीं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप