आगरा(जागरण संवाददाता): सपा महिला सभा में कई दिनों से चल रहे असंतुष्टि और आपसी मतभेदों के माहौल के बाद अंदर की रार गुरुवार को खुलकर सामने आ गई। सभा अध्यक्ष पर अन्य महिला पदाधिकारियों ने दु‌र्व्यवहार का आरोप लगाते हुए इस्तीफा दे दिया।

कई दिनों से चल रहे सपा महिला सभा की पदाधिकारियों के बीच आरोप प्रत्यारोप के दौर के बाद इस्तीफे का दौर शुरू हो गया है। गुरुवार को छह पदाधिकारियों ने महिला सभा की अध्यक्ष पर दु‌र्व्यवहार का आरोप लगाते हुए इस्तीफा दे दिया। जबकि इन आरोपों को गलत बताते हुए अध्यक्ष का कहना है कि महिला पदाधिकारियों की अनियमितताओं को देखते हुए इन सभी को 25 जून को पद से हटाया जाना था।

तीन महीने पहले सपा महिला सभा की अध्यक्ष मोनिका नाज खान को बनाया गया था। इसके बाद सभा के अन्य पदाधिकारी बनाए गए। इसके बाद से ही पदाधिकारियों द्वारा बनाए गए सदस्यों को लेकर विवाद चल रहा था। ऐसे में उपाध्यक्ष व मीडिया प्रभारी नेहा शर्मा, कोषाध्यक्ष शबनम खान, सचिव अनीता के साथ ही सदस्य राजदेवी, नगमा, यशोदा, कमलेश ने इस्तीफा दे दिया। इन सभी ने दु‌र्व्यवहार का आरोप लगाते हुए पद से इस्तीफा दिया है। मगर, पार्टी के लिए काम करती रहेंगी। महिला सभा की अध्यक्ष मोनिका नाज खान का कहना है कि पदाधिकारियों द्वारा बनाए गए सदस्य बैठक में नहीं आते थे, इनका किराया मांगा जाता था। इन्हें 25 जून को होने वाली पार्टी की बैठक में पद से हटाया जाना था, इसकी जानकारी होने के बाद इस्तीफा देने की बात कही जा रही है। अभी इस्तीफा का पत्र नहीं मिला है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप