आगरा, जागरण संवाददाता। सिकंदरा के अरतौनी में एक वर्कशाप में दो गार्ड के बीच हुई कहासुनी ने तूल पकड़ लिया। गार्ड ने अपनी लाइसेंसी बंदूक से गोली मारकर साथी को घायल कर दिया। घायल गार्ड को दो गोली लगी हैं, उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। गार्ड की हालत खतरे से बाहर है।

मैनपुरी के थाना किशनी के गांव वसैत का मूल रूप से रहने वाला अमित मिश्रा, सिकंदरा हाईवे पर स्थित एक वर्कशाप में सिक्योरिटी गार्ड है। आगरा के एत्माद्दौला के इलाके में किरण बाग कालोनी में किराए पर रहता है। अमित मिश्रा के साथ ही जय प्रकाश भी उसी वर्कशाप में गार्ड है। वह मूलरूप से मैनपुरी में पाल गली, वसी वोरा का रहने वाला है। घटना बुधवार की सुबह पौने छह बजे की है।

इंस्पेक्टर सिकंदरा कमलेश सिंह के अनुसार अमित मिश्रा और जय प्रकाश शौच के लिए गए थे। इसी दौरान दोनों के बीच अपनी ड्यूटी को लेकर कहासुनी होने लगी। इसने विवाद का रूप ले लिया। इसी दौरान अमित मिश्रा ने जय प्रकाश से कहा कि हिम्मत है तो वह उसे गोली मारकर दिखाए। इस पर जय प्रकाश ने अपनी लाइसेंसी बंदूक से अमित मिश्रा पर दो फायर कर दिए। एक गोली अमित की पीठ और दूसरी उसके कूल्हे में लगी। वह खून से लथपथ होकर गिर पड़ा।

वर्कशाप परिसर में गोली चलने की आवाज सुनकर वहां मौजूद अन्य सिक्योरिटी गार्ड व स्टाफ मौके पर दौड़ा पड़ा। घायल गार्ड अमित मिश्रा को अस्पताल में ले जाकर भर्ती कराया। इंस्पेक्टर ने बताया कि मामले में सुंदर सिंह की तहरीर पर आरोपित जय प्रकाश के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। आरोपित गार्ड को हिरासत में ले लिया है।

कई घंटे बाद मिली पुलिस को सूचना

सिक्योरिटी गार्ड द्वारा साथी को गोली मारकर घायल करने की सूचना पुलिस को कई घंटे बाद दी गई। सिक्योरिटी गार्ड घायल साथी को लेकर कई अस्पतालों में घूमते रहे। उसे एक अस्पताल में भर्ती कराने के बाद जब डाक्टरों ने गार्ड को खतरे में बता दिया, इसके बाद थाने जाकर पुलिस को घटना की जानकारी दी।

Edited By: Jagran