आगरा, जेएनएन। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने भाजपा पर तीखे प्रहार किए। उन्होंने कहा कि मंदी से निपटने के स्थान पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जुमलेबाजी कर रहे हैं। गाय और ओम का नाम लेने से किसी को एतराज नहीं हैं। श्री सिंह यहां गोवर्धन की परिक्रमा करने आए थे। वह स्थानीय होटल में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि पीएम ने मथुरा मे अपने कार्यक्रम के दौरान कहा कि गाय और ओम का नाम लेने से कुछ लोगों के रोंगटे खड़े हो जाते हैं। जबकि गाय और ओम का नाम लेने से हिंदू, मुस्लिम, सिख, इसाई किसी के रोंगटे खड़े नहीं होते। रोंगटे खड़े होने का मुहावरा उस समय का है, जब पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय इंदिरा गांधी ने पाकिस्तान के दो टुकड़े किए थे। प्रधानमंत्री असफलता से बचने के लिए इस तरह के भाषण दे रहे हैं। मध्य प्रदेश पहला राज्य था, जिसने 1993 में गो सेवा आयेाग का गठन किया था। भाजपा सरकार आने पर यह आयोग बंद कर दिया गया। कांग्रेस की सरकार ने फिर एक हजार गोशाला खोलने का निर्णय लिया है, कुछ गोशाला शुरू भी हो गई हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा को गोमांस निर्यातक चंदा देते हैं। भाजपा के शासन में गोमांस निर्यात बढ़ा है। देश में न काला धन आया और न लोगों को नौकरी मिली, उल्टा लोगों की नौकरी जा रही हैं। मथुरा के सराफा बाजार में सैकड़ों कारीगर बेरोजगार होने जा रहे हैं। मोदी को डॉ. मनमोहन सिंह ने नसीहत लेनी चाहिए। भाजपा कहती है कि कश्मीर के हालत सामान्य हैं, तो फिर वहां कफ्र्यू क्यों है। कश्मीर का हल पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी ने प्रजातंत्र, लोगों की भावना और इंसानियत के माध्यम से बताया था। अमित शाह और मोदी ने इनको ध्यान में नहीं रखा। उन्होंने पी चिदंबरम पर कहा कि विरोधियों पर झूठे मुकदमे दर्ज कराए जा रहे हैं, जांच एजेंसी पीछे लगाई जा रही हैं। उन्होंने कहा कि चिन्मयानंद पर कार्रवाई होनी चाहिए, भाजपा उन्हें बचाने की कोशिश कर रही है। पूर्व विधायक प्रदीप माथुर, सोहन ङ्क्षसह सिसाौदिया, आबिद हुसैन, शालू अग्रवाल, बिहारीकांत, विनेस सनवाल, मुकेश धनगर मौजूद रहे।

 

Posted By: Tanu Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप