आगरा, जेएनएन। देवोत्थान एकादशी पर शुक्रवार को वृंदावन की पंचकोसीय परिक्रमा में सुबह से ही मानव श्रृंखला बन गई। देश विदेश के श्रद्धालुओं की टोलियां भजन संकीर्तन करते परिक्रमा में बरस रही आस्था की गंगा में डुबकी लगाती देखी गईं। भोर की पहली किरण के साथ शुरू हुई श्रद्धालुओं की भीड़ दिन चढ़ते ही बढ़ने लगी।

परिक्रमा में नंगे पैर चल रहे श्रद्धालुओं को हालांकि बिखरी पड़ी कंकरीट से काफी दिक्कतें हुईं। मगर, अव्यवस्थाओं को चीरते हुए आस्था भारी पड़ती दिखाई दी। इस्कॉन मंदिर और अटल्ला चुंगी क्षेत्र के कट पर तैनात पुलिसकर्मियों ने परिक्रमार्थियों और वाहनों को रोक-रोक कर आगे निकाला। जिससे वाहनों के जाम की समस्या भी झेलनी पड़ी। परिक्रमा मार्ग में रमणरेती, बिहार घाट, सूरज घाट, श्रृंगारवट घाट, केशीघाट पर नजारा मेले जैसा दिखाई दिया। शहर के अधिकतर लोगों ने बिहार घाट से लेकर केशीघाट तक के दायरे से परिक्रमा शुरू की। यही कारण था कि बिहार घाट से लेकर श्रृंगारवट घाट तक परिक्रमा मार्ग में चाट-पकौड़ी और एकादशी पूजन सामग्री, गन्ना की दुकानें लगी थीं। जहां परिक्रमा पूरी होने के बाद श्रद्धालुओं ने खरीदारी की।  

Posted By: Tanu Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप