आगरा, जेएनएन। राजधिराज ठाकुर द्वारिकाधीश मंदिर के आंगन में सोमवार से रसिया की तान छिड़ गई है। श्याम- श्यामा की होली लीला को जीवंत कर रहे श्रद्धालु रसिया की तान पर झूमने लगे। अबीर- गुलाल ने वातावरण को सतरंगी बना दिया। होली के रंग ऐसे बिखरे की कोई भी इनमें भिगे बिना नहीं रह सका। श्रद्धालु एक-दूसरे का हाथ पकड़कर होली की मस्ती में झूमने लगे।

द्वारकाधीश मंदिर में सोमवार फाल्‍गुन माह की प्रतिपदा से रसिया गायन का कार्यक्रम प्रारंभ हो गया। देश- विदेश से आए श्रद्धालुओं ने रसिया गायन का आनंद लिया। आज ब्रज में होरी रे रसिया, होली खेलन आए हैं नटवर नंद किशोर, ओ मेरे रसिया, मन बसिसा रसियाओं पर श्रद्धालु भक्ति भाव में विभोर होकर होली के रंग में रंग गए। ढप की थाप ठाकुरजी को रिझा रही थी। भक्त भी ठाकुरजी के आंगन में नृत्य कर अपने आराध्य को रिझाने का भरपूर प्रास कर रहे थे। झांझ-मजीरा की धुन कर्ण प्रिय थीं। श्रद्धालु ठाकुरजी के दर्शन कर होली के रसिया का आनंद ले रहे थे। एक-दूसरे को अबीर -गुलाल लगाकर ब्रज की होली में डूब गए।

मंदिर ठाकुर द्वारकाधीश महाराज के मीडिया प्रभारी एड. राकेश तिवारी ने बताया कि ठाकुर मंदिर द्वारकाधीश में पड़वा के दिन से प्रारंभ हुआ रसिया गायन का कार्यक्रम निरंतर एक माह तक चलता रहेगा। देश-विदेश से आए श्रद्धालु शुद्ध रसिया गायन का आनंद ले सकेंगे। पुष्टिमार्गीय संप्रदाय में फाल्‍गुन माह की प्रतिपदा से ठाकुरजी को प्रतिदिन रसिया सुनाने का नियम है।

वैसे तो ब्रजमंडल में वसंत पंचमी से होरी प्रारंभ हो जाती है, लेकिन पुष्टिमार्गीय संप्रदाय में पूर्णिमा के दिन होरी का डांढ़ा गढ़ता है और पड़वा के दिन से रसिया गायन प्रारंभ होते हैं। रंग भरनी एकादशी और त्रयोदशी के दिन ठाकुरजी का बगीचा और पड़वा के दिन होली महोत्सव महोत्सव आयोजित होता है।

सोमवार को डप का पूजन मंदिर के अधिकारी वैद्य अशोक कुमार शर्मा, मीडिया प्रभारी एड. राकेश तिवारी ने संयुक्त रूप से किया। डप पर गायन कर रहे चुन्नीलाल, छोटू बन्ना का दुपट्टा उड़ा कर स्वागत किया गया। यह पूजन मंदिर के सेवा अधिकारी अजय भट्ट द्वारा कराया गया।

हिंदू कैलेंडर का आखिरी मास है फाल्‍गुन

हिंदू कैलेंडर के 12 मास में से फाल्‍गुन आखिरी मास है। फाल्‍गुन मास के कृष्‍ण पक्ष का आरंभ सोमवार से हो गया है। इस पूरे माह ब्रज में फाग के रंगों का उल्‍लास दिखाई देगा।  

Posted By: Tanu Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस