आगरा, जेएनएन। मैनपुरी में शनिवार दोपहर को भाजपाइयों ने डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के नेतृत्व में करहल चौराहा से कचहरी राेेड स्थित सहकारी बैंक तक सीएए को लेकर शांति मार्च निकाला। इसके बाद हुई सभा मे डिप्टी सीएम ने विरोधी दलों पर जमकर निशाना साधा। डिप्टी सीएम ने सपा और कांग्रेस को चेतावनी दी। कहा कि  दंगे भड़काओगे तो अब कानून के तहत कार्रवाई होगी। हम हिन्दू मुस्लमान में भेद नही करते और जो भेद पैदा करेगा उसे बख्शेंगे नही।

कांग्रेस और सपा गांधी और लोहिया के नाम पर वोट बटोरते हैं, लेकिन उनके विचार नही मालूम। मुसलमान भी नागरिकता संशोधन कानून की हकीकत समझ चुके हैं। डिप्टी सीएम ने कहा कि भाजपा 15 से 23 जनवरी तक सीएए के समर्थन ने सभाएं करेगी। विरोधियों को ललकारते हुए डिप्टी सीएम ने एलान किया कि हम मेला लगाकर नागरिकता देंगे। अगर दम है तो रोक लेना। ये कानून तो पास हो चुका है। जो शरण लेने आए हैं उनके लिए ये कानून है, जो घुसपैठिये हैंं उन्हें देश छोड़ना होगा। डिप्टी सीएम ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून में किसी की नागरिकता छीनने का प्रावधान नहीं है। मोदी विरोधी इसका विरोध नहीं कर रहे, बल्कि जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाने का विरोध कर रहे हैं। उनको मोदी सरकार के कदम पर गुस्सा है। उनको तीन तलाक का गुस्सा है। उनको राम मंदिर पर फैसले के बाद दंगा न होने का गुस्सा है। सभी में मुस्लिम मतों की होड़ मची है। जो भाषा सपा और कांग्रेस बोलती है, वही पाकिस्तान बोलता है। परंतु अब सेना को पाकिस्तान को जवाब देने की पूरी छूट है। केंद्र में कांग्रेस नहीं, मोदी है। अब सैनिक गोली के बदले गोली चलाएंगे। सीएए के जरिए प्रधानमंत्री मोदी ने पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान के पीड़ित हिन्दू और अल्पसंख्यकों को नागरिकता देने का काम किया है। सीएए पर लोगों को जागरूक करने के लिए भाजपा अभियान चलाए हुए है। इसके तहत शनिवार दोपहर को मैनपुरी के करहल चौराहे से जिला सहकारी बैंक तक शांति मार्च निकाला गया। डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने इस मार्च का नेतृत्व किया। डिप्‍टी सीएम हेलीकॉप्टर से मैनपुरी पहुंचे थे। मार्च के बाद कलक्ट्रेट सभागार में विकास योजनाओं आदि की वे समीक्षा बैठक करेंगे। मार्च से पूर्व भाजपा के प्रमुख नेताओं संग बैठक की। शुक्रवार को डिप्टी सीएम के आगमन को लेकर संबंधित रास्तों पर रंग-रोगन का काम चलता रहा। दोपहर में एसपी अजय कुमार ने पदयात्रा के रूट और सभा स्थल का जायजा लिया। सुरक्षा इंताजामों आदि को लेकर चर्चा की। अधीनस्थों को व्यवस्थाएं दुरुस्त करने के निर्देश दिए। शाम को डीएम महेंद्र बहादुर सिंह और एसपी ने पुलिस-प्रशासनिक अधिकारियों संग बैठक कर तैयारियों की समीक्षा की। डीएम महेंद्र बहादुर सिंह और एसपी ने हेलीपैड से लेकर मीटिंग हॉल तक, मीटिंग हॉल से लेकर बड़े चौराहे, क्रिश्चियन तिराहे, सहकारी बैंक तक शांति मार्च के लिए किए गए इंतजामों की बारीकी से जानकारी ली। बैठक संबंधी व्यवस्थाओं के लिए मुख्य विकास अधिकारी और शांति मार्च हेतु अपर जिलाधिकारी, अपर पुलिस अधीक्षक को नोडल अधिकारी बनाया गया है। डीएम व एसपी के निर्देश थे कि शांति मार्च के दौरान विशेष सतर्कता बरती जाए। कार्यक्रम के दौरान यदि किसी के द्वारा शांति व्यवस्था को बिगाड़ने की कोशिश की जाए तो ऐसे लोगों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाए। बैठक में अपर जिलाधिकारी बी. राम, उप जिलाधिकारी सदर, करहल, घिरोर, किशनी, कुरावली, रजनीकांत, रतन वर्मा, अनिल कटियार, राम सकल मौर्य, अनूप कुमार, क्षेत्रधिकारी नगर, भोगांव, कुरावली अभय राय, प्रियांक जैन, दद्दन प्रसाद आदि उपस्थित रहे।

 

Posted By: Tanu Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस