आगरा, जागरण संवाददाता। डिप्टी सीएम डॉ दिनेश शर्मा ने कहा है कि प्रदेश हीन नकल विहीन बोर्ड परीक्षा के लिए तैयारियां पूरी हैं। सीसीटीवी कैमरे, वॉइस रिकॉर्डर के साथ में राउटर की व्यवस्था की गई है। प्रबंधकों को परीक्षा केंद्रों से दूर रखा जाएगा। अगर उनका आवास वहींं है तो ऐसे विद्यालयों को परीक्षा केंद्र नहीं बनाया जाएग। डिप्‍टी सीएम की बोर्ड परीक्षा की तैयारियों के बाबत ये बातें आरबीएस इंटर कॉलेज में नवाचार प्रदर्शनी एवं प्रदेश स्तरीय माध्यमिक क्रिकेट प्रतियोगिता के उदघाटन के मौके पर कही। 

डिप्‍टी सीएम शुक्रवार दोपहर आगरा पहुंचे। कार्यक्रम में उन्‍होंने कहा कि जिन एडेड विद्यालयों में नियुक्ति की प्रक्रिया हो चुकी है या फिर चल रही है, वह पूरी तरह अवैध है। शिकायत पर कार्रवाई की जाएगी। जेडी या डीआईओएस ने अनुमोदन किया तो वह भी नहीं बख्शे जाएंगे। नियुक्ति प्रक्रिया को लेकर शासक सख्त है और शासन स्तर से ही प्रक्रिया को अंजाम दिया जाएगा। उन्‍होंने बोर्ड परीक्षा पर कहा कि 

हर गली में एक कंट्रोल रूम बनाया जाएगा जिससे सभी परीक्षा केंद्रों को जोड़ा जाएगा ताकि उन पर नजर रखी जा सके। पहले बोर्ड परीक्षा ढाई महीने चलती थी, अब 14 से 15 दिन में पूरी हो जाती हैं। मेधावी छात्रों को प्रोत्साहित करने के लिए एक लाख, एक कंप्यूटर के साथ उनके मोहल्ले की एक सड़क का नाम उनके नाम पर रखने का प्रस्ताव हमारा है तभी मेधावी को हर कोई पहचान सकेगा। इससे पूर्व 

डिप्‍टी सीएम ने प्रदर्शनी का अवलोकन कर छात्रों द्वारा बनाए मॉडल्‍स की सराहना की। डिप्‍टी सीएम ने क्रिकेट प्रतियोगिता में शामिल होने आए खिलाड़ियों से भी मुलाकात की।

आयोजन में सांस्कृतिक कार्यक्रम का कुछ देर अवलोकन करने के बाद डिप्‍टी सीएम आगरा कॉलेज मैदान में चल रहे अखिल भारतीय विद्यार्र्थी परिषद के राष्‍ट्रीय अधिकवेशन के लिए रवाना हो गए। 

 

Posted By: Tanu Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस