आगरा, जागरण संवाददाता। डेंगू के संक्रमण की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम निजी अस्पतालों का सर्वे कर रही है। 10 अस्पतालों का सर्वे किया जा चुका है, इसमें से दो अस्पतालों में डेंगू के केस मिले थे। अब स्वास्थ्य विभाग की टीम फतेहाबाद रोड सहित अलग अलग क्षेत्रों के 30 अस्पतालों का सर्वे करेगी। इसमें देखा जाएगा कि डेंगू का कोई नया मरीज तो भर्ती नहीं है। डेंगू का मरीज मिलने पर उसके स्वजनों की भी जांच कराई जाएगी।

यह भी पढ़ेंः Vivah Panchami 2022: शादी में अड़चन आ रही है अड़चन या फिर धन की रहती है कमी, करना न भूलें ये उपाए

डेंगू के केस हुए 31

खंदौली के रहने वाले 14 वर्ष के किशोर को कई दिनों से बुखार आ रहा था। जिला अस्पताल में डेंगू की जांच कराई गई, डेंगू की रिपोर्ट पाजिटिव आई है। घर पर ही इलाज चल रहा है। नरीपुरा निवासी 21 वर्ष के युवक को तेज बुखार के साथ ही शरीर में दर्द की समस्या थी। जिला अस्पताल में जांच कराने पर डेंगू की पुष्टि हुई है, घर पर इलाज चल रहा है। जिला मलेरिया अधिकारी नीरज कुमार ने बताया कि निजी लैब में चार मरीजों की रैपिड टेस्ट से जांच करने पर डेंगू की पाजिटिव रिपोर्ट आई है। इन चारों मरीजों को संदिग्ध मानते हुए एसएन मेडिकल कालेज में सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। अभी तक जिले में 31 मरीजों में डेंगू की पुष्टि हो चुकी है।

यह भी पढ़ेंः Fake Medicines: आगरा के चिंटू गिरोह का पश्चिम बंगाल तक फैला नेटवर्क, नशे के लिए कफ सिरप की सप्लाई

साधारण डेंगू के लक्षण

1- अचानक तेज बुखार।

2- सिर में आगे की और तेज दर्द।

3- आंखों के पीछे दर्द और आंखों के हिलने से दर्द में और तेजी।

4- मांसपेशियों, बदन व जोडों में दर्द।

5- स्‍वाद का पता न चलना व भूख न लगना।

6- छाती और ऊपरी अंगो पर खसरे जैसे दानें।

7- चक्‍कर आना।

8- जी घबराना उल्‍टी आना।

9- शरीर पर खून के चकते एवं खून की सफेद कोशिकाओं की कमी।

 

Edited By: Tanu Gupta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट