आगरा(जागरण संवाददाता): महिला वैज्ञानिक की ईमेल आइडी नाइजीरियन हैकर्स ने हैक कर ली। उनके दोस्तों को मेल भेजकर मदद की मांग की। एक दोस्त ने हैकर्स द्वारा किए गए मेल के बाद एक लाख रुपये उनके खाते में जमा करा दिए। मामला खुलने पर महिला वैज्ञानिक ने साइबर सेल में मामले की शिकायत की है।

मामला जालमा संस्थान की महिला वैज्ञानिक की ईमेल आइडी का है। हैकर्स ने 25 अप्रैल को आइडी हैक करके उनकी फ्रेंड लिस्ट में शामिल लोगों को उनकी आइडी से मेल किए। इसमें हवाला दिया गया कि वैज्ञानिक विदेश में बीमार हैं, और उन्हें इलाज के लिए रुपयों की जरूरत है। वैज्ञानिक की एक करीबी दोस्त को भरोसा हो गया और उन्होंने मेल में दिए गए बैंक खाते में एक लाख रुपये जमा करा दिए। इसके बाद उन्होंने फोन करके महिला वैज्ञानिक का हाल पूछा तो मामला खुला। वैज्ञानिक ने ठगी की शिकायत साइबर सेल में की है। साइबर सेल की जांच में सामने आया कि जिस खाते में रकम ट्रांसफर हुई वह नाइजीरिया का है। वह पहले से सीज था। इसके बाद साइबर सेल ने ठगी की रकम एक लाख रुपये होल्ड करा दी। अब रकम वापसी की कार्रवाई की जा रही है।

सावधानी से बच सकते हैं शिकार बनने से

हैकर्स आजकल ईमेल आइडी और सोशल मीडिया प्रोफाइल को हैक कर लोगों से ठगी कर रहे हैं। इन्हें सुरक्षित रखने के लिए सावधानी जरूरी है। साइबर विशेषज्ञों का कहना है कि इसके लिए समय-समय पर पासवर्ड चेंज करते रहें। साथ ही यह भी ध्यान रखें कि आपके किसी परिचित की मेल आइडी से अगर किसी तरह की डिमांड की जा रही है तो पहले उनसे संपर्क कर हकीकत जान लें।

तत्काल साइबर सेल में करें शिकायत

अगर किसी के साथ साइबर शातिरों ने ठगी की है तो इसकी शिकायत करने में देरी न करें। तत्काल साइबर सेल में इसकी शिकायत करें। इससे ठगी की रकम वापस हो सकती है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस