आगरा, जागरण संवाददाता । कोरोना काल में असहायों की सेवा को छह प्रकल्पों की शुरुआत करने वाले आगरा विकास मंच द्वारा कोरोना संक्रमितों की काउंसिलिग भी की जा रही है। सोमवार को दो परिवारों की काउंसिलिग कर उनकी चिता को कम किया गया। छह परिवारों की सहायता की गई।

मंच ने ऐसे परिवार जिनके बच्चे बाहर हैं, उनके लिए चिकित्सा सेवा, घर पर दवा, घर पर भोजन, आपातकाल में घर के लिए आक्सीजन, बाईपैप मशीन और अंतिम संस्कार का प्रकल्प शुरू किया है। सोमवार को संस्था को रंगकर्मी अनिल जैन द्वारा एक वीडियो भेजा गया। इसमें सेना से रिटायर्ड अधिकारी पत्नी के आर्मी हास्पीटल में भर्ती होने व स्वयं का आक्सीजन लेवल कम होने की बात कह रहे थे। उन्हें हास्पीटल जाना था और उनके दोनों बच्चे पाजिटिव थे। घर में कोई देखभाल करने वाला नहीं होने का हवाला देते हुए वह मदद मांग रहे थे। मंच के कार्यकर्ताओं ने कई बार बात कर उनकी चिता को दूर किया। एक अन्य लड़की ने हेल्पलाइन पर संपर्क कर कहा कि उसके माता-पिता होम आइसोलेट हैं। वह सभी काम कर रही है, लेकिन घबराई हुई है। उससे बात करने वाला कोई नहीं है, सभी दूरी बनाए हैं। मंच के कार्यकर्ताओं ने उसे धीरज बंधाते हुए हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। हेल्पलाइन नंबर 6360537520 और 8958592544 पर 31 लोगों ने संपर्क किया। छह परिवारों की मदद करते हुए चिकित्सा, बाईपैप मशीन, भोजन, दवा आदि की व्यवस्था की गई। एक परिवार को आक्सीजन सिलिडर उपलब्ध कराया गया। मंच के अध्यक्ष राजकुमार जैन व संयोजक सुनील कुमार जैन ने बताया कि सेना से रिटायर्ड अधिकारी का वीडियो डीएम प्रभु एन. सिंह को भेजा गया है। वह आर्मी हास्पीटल में बात कर रहे हैं।