आगरा, तनु गुप्‍ता। कोरोना वायरस संक्रमण के इस दौर में खुद को फिट रखने के लिए हर उपाय करने में जुटे हुए हैं। तमाम जतन किये जा रहे हैं। बावजूद इसके बिगड़ते माहौल का डर हर किसी के दिल में बढ़ता जा रहा है। अकेले आगरा में लगातार बढ़ रही संक्रमितों की संख्‍या ने कई राज्‍यों के पूरे आंकड़ों को पीछे छोड़ दिया है। ऐसे में लोग फिक्रमंद हैं कि ऐसा क्‍या प्रयोग करें ताकि संक्रमण की गिरफ्त में आने से बचा जाए। इस बाबत डायटिशियन आकांक्षा गुप्‍ता एक ऐसा जादुई पानी बताती हैं जिसका सेवन आपको फिट रखने के साथ इम्‍युन सिस्‍टम को बूस्‍ट करता है।

आकांक्षा के अनुसार किसी भी बीमारी और संक्रमण से बचने का सबसे कारगर उपाय हमारे खुद के शरीर के अंदर छुपा होता है। यानि शरीर का इम्‍युन सिस्‍टम। अगर शरीर का इम्‍युन सिस्‍टम फिट है तो हमारी सेहत हिट रह सकती है। वैसे भी फिटनेस इस बात पर भी निर्भर करती है कि सुबह उठते ही हम क्या खाते या पीते हैं। रोजमर्रा के काम-काज के दौरान अक्सर अतिरिक्त ऊर्जा की जरूरत महसूस होती है। हमें पता भी नहीं होता कि हमें जो यह थकान सी महसूस होती है, उसकी वजह शरीर में अत्यधिक टॉक्सिन जमा होना भी हो सकती है। इनके दुष्परिणामों से बचने के लिए नियमित रूप से शरीर को डिटॉक्सिफाई करने की जरूरत होती है। ऐसे में डिटॉक्स वॉटर बॉडी को डीटॉक्सीफाई करने में हमारी मदद करता है। डिटॉक्स वॉटर से प्राकृतिक तौर पर इम्‍युनिटी बढ़ती है। इसके अलावा जलन-सूजन कम करने, ऊर्जा बढ़ाने, पाचन शक्ति बेहतर बनाने, लीवर को साफ करने और त्वचा को स्वस्थ बनाने में मदद मिलती है।

क्‍या होता है डिटॉक्‍स वॉटर

आकांक्षा बताती हैं कि डिटॉक्स वॉटर का काम शरीर को डिटॉक्सिफाई करना होता है। टॉक्सिक पदार्थ हमारे शरीर के लिए हानिकारक होते हैं। हमारी खाने-पीने, सोने और जागने की आदतों से हमारे शरीर में टॉक्सिक पदार्थ बनते हैं और इन्हें शरीर से बाहर निकालना बहुत जरूरी होता है। इसके लिए आप अपनी बॉडी को डिटॉक्स वॉटर से साफ कर सकते है। सिर्फ डिटॉक्स वॉटर की मदद से अपना वजन भी कम भी किया जा सकता है।

जानिए क्‍या है फायदे

हम रात में लगभग आठ घंटे सोते हैं और इस दौरान पानी की जरा सी भी मात्रा शरीर के अंदर नहीं जाती है। यही कारण है कि डॉक्टर और बुज़ुर्ग सलाह देते हैं कि सुबह उठते ही पानी पीना चाहिये। हालांकि अगर आप पानी की जगह डिटॉक्स वॉटर पीते हैं तो शरीर में उसकी पौष्टिकता कई गुना बढ़ जाती है। अक्सर हर दिन आठ गिलास पानी पीने की सलाह दी जाती है। डिटॉक्स वॉटर के सेवन से शरीर को विषैले पदार्थों से छुटकारा पाने में मदद मिलती है। इससे ऊर्जावान महसूस करते हैं और साथ ही वजन कम करने में भी मदद मिलती है।

इम्यून सिस्टम होगा मजबूत

अगर शरीर का इम्यून सिस्टम मजबूत है तो रोग आसानी से हमला नहीं कर पाते हैं इसलिए डिटॉक्स वॉटर से अपना इम्यून सिस्टम मजबूत बनाएं। दरअसल फल-सब्जियों से प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूती मिलती है। विशेष रूप से अगर आप नियमित तौर पर विटामिन सी का सेवन करते हैं तो यह आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत कर सकता है। डिटॉक्स वॉटर विषाक्त पदार्थों, कचरे और मुक्त कणों से छुटकारा पाने में मदद करता है और साथ ही यह प्रतिरक्षा को भी मजबूत करता है।

वजन होता है कंट्रोल

पर्याप्त मात्रा में पानी पीने से आपको वजन कम करने में मदद मिलती है और यही बात डिटॉक्स वॉटर पर भी लागू होती है। यह पानी पूरी तौर से चयापचय की प्रक्रिया बढ़ाने में मदद करता है, जिससे कैलोरी कम होती है। डिटॉक्स पेय से ऊर्जा का स्तर बढ़ता है, जिससे आप सारा दिन ताज़ा और हल्का महसूस कर सकते हैं। अंगूर जैसे फलों में कुछ विशेष एंजाइम भी होते हैं जो शरीर को शर्करा का उपयोग करने में मदद करते हैं, जिससे चयापचय की प्रक्रिया बढ़ती है और वजन कम होता है।

पाचन क्रिया बनेगी स्वस्थ

पाचन को स्वस्थ रखने और पेट को नियमित तौर पर साफ रखने के लिए शरीर में पर्याप्त रूप से पानी का होना बहुत जरूरी है। लम्बे समय तक शरीर में पानी की कमी से कब्ज हो सकता है, जिससे पेट फूला हुआ और सुस्ती महसूस हो सकती है। ऐसे में डिटॉक्स पेय में मौजूद पोषक तत्व आपके पाचन तंत्र को स्वस्थ रखते हैं। डिटॉक्स पेय लीवर की सक्रियता में भी मदद करता है। नींबू से तैयार डिटॉक्स पेय में एस्कॉर्बिक एसिड होता है जो पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने में मदद करता है। भरपूर पानी पीने से भोजन या भोजन के अपशिष्ट को आंत से गुजरने में मदद मिलती है, जिससे कब्ज नहीं होता है।

लीवर की रक्षा

लीवर का एक मुख्य कार्य है शरीर की प्रणाली को साफ रखना। आज के दौर में हमारी जीवनशैली से जुड़ी कुछ खराब आदतें लीवर पर दबाव डाल रही हैं। ऐसे में नियमित रूप से लीवर को विषाक्तता मुक्त बनाना आवश्यक है ताकि यह ठीक से काम कर सके। डिटॉक्स पेय हमारे खाने में से टॉक्सिन को बाहर निकाल देते हैं। इसलिए अपने पीने के पानी में ताज़ा और रसेदार खीरे के कुछ टुकड़े मिलाएं और दिन भर उसकी चुस्की लें। रोज़ाना डिटॉक्स वॉटर पीने वाले लोगों का लीवर बाकी लोगों की अपेक्षा ज्यादा स्वस्थ रहता है।

नहीं होगी एनर्जी की कमी

शरीर में करीब एक प्रतिशत पानी की कमी मूड को उल्लेखनीय रूप से प्रभावित कर सकती है, एकाग्रता में कमी और सिरदर्द तक हो सकता है। कोई भी डिटॉक्स पेय जलन-सूजन कम करने, लीवर को साफ करने और स्वाभाविक रूप से ऊर्जावान बनाने में मदद करता है। जब विषाक्त पदार्थों से मुक्ति मिल जाती है तो शरीर में हल्कापन और ताज़गी महसूस होती है। इससे पूरा दिन काम करने की एनर्जी मिलती है।

ऐसे बनाएं

घर पर डिटॉक्स वॉटर बनाना बहुत आसान होता है। इसके लिए आपको केवल पानी, फलों, सब्जियों और कुछ जड़ी-बूटियों की जरूरत होती है।

- सबसे पहले यह तय कर लें कि आपको किस फल का डिटॉक्स वॉटर बनाना है। उसके बाद उसे साफ करके रख लें।

- सभी सामग्रियों को काट कर उन्हें गर्म या ठंडे पानी में मिला लें।

- अब उस पानी को कुछ देर तक एक जग में डालकर रखें। ध्यान रखें कि जितनी ज्यादा सामग्रियों का उपयोग करेंगे, आपका डिटॉक्स जल उतना ही स्वादिष्ट बनेगा। अगर आप ठंडा पेय बनाना चाहते हैं तो डिटॉक्स जल को 1-12 घंटे के लिए फ्रिज में रख सकते हैं ताकि इसमें डली सामग्रियों का जायका अच्छी तरह मिल जाए। हालांकि इसके बाद इन सामग्रियों को फेंक दें ताकि वे खराब न होने लगें और पानी को दूषित न कर दें।

आम और तुलसी के पत्तों का डिटॉक्स वॉटर

आम पाचन, चयापचय को मजबूत, रक्‍तचाप को नियंत्रित, खराब कोलेस्‍ट्रॉल को कम और इंसुलिन संवेदनशीलता में सुधार करने में मदद करता है। तुलसी के पत्‍ते एंटीआक्‍सीडेंट्स से भरे होते हैं और विषाक्‍त पदार्थों को दूर करने व कैंसर कोशिका प्रसार को रोकने में मदद करते हैं।

सामग्री

- पके आम के 10 पतले टुकड़े

- 10 तुलसी के पत्‍ते

- 1 लीटर पानी

विधि

- आम के टुकड़ों और तुलसी के पत्‍तों को एक जार में एक लीटर पानी के साथ मिलाएं।

- इस पानी को 1 घंटे कि लिए रेफ्रिजरेटर में रखें

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस