आगरा, जागरण संवाददाता। राजकीय विमान से गुरुवार सुबह आगरा एयरपोर्ट पर पहुंच सीएम योगी आदित्‍यनाथ हेलीकॉप्‍टर से अलीगढ़ चले गए थे। अलीगढ़ के बाद वे दोपहर करीब तीन बजे मथुरा आ चुके हैं। वेटेरिनरी यूनिवर्सिटी से लंच के बाद मुख्‍यमंत्री सीधे जिला अस्‍पताल पहुंचे, यहां व्‍यवस्‍थाओं का जायजा लिया। इसके बाद वे मथुरा के कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर का निरीक्षण करने जा रहे हैं। मथुरा के बाद मुख्‍यमंत्री आगरा करीब 4.30 बजे आए।

अागरा में खेरिया एयरपोर्ट पर स्‍थानीय जनप्रतिनिधियों ने उनका स्‍वागत किया। इसके बाद मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ का काफिला सीधे पथौली गांव गया। यहां कल से तैयारियां की जा रही थीं। गांव में मुख्‍यमंत्री ने लाचारीराम से मुलाकात की और उनका हालचाल जाना। लाचारीराम की पत्‍नी ने पंचायत चुनाव लड़ा था। लाचारीराम ने दो मई को कोविड टेस्‍ट कराया था, अब उनकी रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। इसके बाद मुख्‍यमंत्री नगर निगम स्थित कोविड कंट्रोल रूम पर पहुंचे। इस दौरान पुलिस ने एमजी रोड पर यातायात को कुछ देर के लिए रोक दिया था। कोविड कंट्रोल सेंटर के बाद सीएम एसएन मेडिकल कॉलेज जाएंगे और वहां व्‍यवस्‍थाओं का जायजा लेंगे। नगर निगम की कार्यकारिणी कक्ष में पुलिस-प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग सहित अन्य अफसरों के साथ बैठक करेंगे। शाम 7.25 बजे राजकीय वायुयान से आगरा से लखनऊ के लिए रवाना होंगे।

मथुरा में बोले सीएम, एक्टिव केसों में कमी

गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कान्हा की नगरी दोपहर तीन बजे पहुंच गए। कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए बहुत ही चुनिंदा लोग उनके साथ दौरे में शामिल हुए हैं। जिला अस्‍पताल मेंं उन्‍हें इंतजाम चाक चौबंद मिले। इसके पीछे एक वजह ये भी थी कि मुख्‍यमंत्री आगमन की सूचना पर बुधवार से ही जिला प्रशासन ने व्‍यवस्‍थाओं को सुधारने की ओर ध्‍यान दे दिया था। रात से लेकर आज दोपहर तक साफ-सफाई और सेनेटाइजेशन के काम चलते रहे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि कोविड से बचाव जरूरी है। उन्होंने कहा कि सक्रिय केसों में तेजी से कमी आयी है। जिम्मेदार पदों पर बैठों लोगों को अनर्गल बयानबाजी नही करनी चाहिए। कोरोना वारियर्स और कोविड के कार्यों में लगे लोगों को हतोत्साहित न करें बल्कि उनका उत्साहवर्धन करें। सीएम ने यहां मरीजों से बातचीत भी की।