आगरा, जागरण संवाददाता। डेंगू से पीड़ित बच्चों में तेज बुखार के साथ ही शरीर अकड़ रहा है। गंभीर हालत में बच्चों को लेकर स्वजन अस्पताल पहुंच रहे हैं। गुरुवार को 19 नए मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई। इसमें आगरा के आठ मरीज हैं।

एसएन के प्राचार्य डा. प्रशांत गुप्ता ने बताया कि मेडिसिन विभाग के डेंगू वार्ड में भर्ती 11 मरीज और बाल रोग विभाग के डेंगू वार्ड मे भर्ती दो मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई है। इनमें से दो मरीज आगरा के हैं। जबकि फीरोजाबाद के छह मरीज, मैनपुरी, मथुरा के दो दो मरीज और हाथरस के एक मरीज में डेंगू की पुष्टि हुई है। वहीं, निजी अस्पताल में भर्ती आगरा के छह मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई है। जिला अस्पताल में डेंगू का कोई नया केस नहीं आया है। यहां आठ मरीज भर्ती हैं। एसएन के बाल रोग विभाग के डा. नीरज यादव ने बताया कि डेंगू के डी टू स्ट्रेन में तेज बुखार आने के साथ ही शरीर में पानी की कमी हो रही है और खून गाढ़ा हो रहा है। इससे बच्चों का शरीर अकड़ रहा है, बेहोशी की हालत में बच्चों को भर्ती कराया जा रहा है। ऐसे केस में प्लेटलेट्स भी चढ़ाने पड़ रहे हैं। इस स्थिति में आवश्यक है कि लोग डाक्टर के परामर्श के बगैर कोई दवा नहीं लें। बच्चों को भी कोई दवा नहीं दें। तीन से अधिक दिन तक बुखार रहे तो जांच जरूर कराएं।

ब्लड बैंक में प्लेटलेट्स दान करने पहुंचे युवा

एसएन में डेंगू मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ ही प्लेटलेट्स की मांग बढ़ने लगी है। ऐसे में रैंडम डोनर प्लेटलेट्स (आरडीपी) और सिंगल डोनर एफरेसिस प्लेटलेट्स (एसडीपी, जंबो पैक) दान करने के लिए गुरुवार को युवा पहुंचे। यहां रात तक शिविर चलता रहा और जंबो पैक दान किए। ब्लड बैंक की प्रभारी डा. नीतू चौहान, डा. यतेंद्र, डा. प्रेम, प्रारंभ वेलफेयर सोसायटी के अंकुर ने मदद की।

Edited By: Nirlosh Kumar