जागरण टीम, आगरा। ब्लाककर्मियों ने वृद्ध को कागजातों में मृत घोषित कर उनकी वृद्धावस्था पेंशन बंद कर दी। पीड़ित ने मुख्यमंत्री समेत उच्चाधिकारियों को शिकायती पत्र भेजकर दोषी कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

पिनाहट ब्लाक के गांव नाद का पुरा निवासी 80 वर्षीय अजब सिंह ने मुख्यमंत्री, जिलाधिकारी, सीडीओ, मानवाधिकार आयोग व एसएसपी को भेजे पत्र में लिखा है कि वर्ष 2019 से समाज कल्याण विभाग द्वारा उन्हें वृद्धावस्था पेंशन दी जा रही थी। इसे नौ मई, 2022 को बंद कर दिया गया। समाज कल्याण विभाग से उन्हें पता चला कि सत्यापन फार्म के दस्तावेजों में उन्हें मृत दर्शा दिया गया है। यह देख उनके होश उड़ गए। पीड़ित के मुताबिक अब ब्लाककर्मी घर आकर गलती की माफी मांग रहे हैं। ग्राम पंचायत अधिकारी अवनीश कुमार ने बताया कि गांव में इसी नाम के दूसरे वृद्ध की मृत्यु हो चुकी हैं। उनकी पेंशन बंद करने के दौरान गलती हुई है। इसे सही करवा दिया गया है। पीड़ित को जल्द वृद्धावस्था पेंशन मिलने लगेगी। किरावली के विकास को धनराशि की जाए आवंटित

जागरण टीम, आगरा। किरावली नगर पंचायत में शुक्रवार को हुई बोर्ड बैठक में सर्वसम्मति से 45 प्रस्ताव पास किए गए। बैठक ऋण सीमा दोगुणा किए जाने पर 10 स्ट्रीट वेंडरों को प्रमाण पत्र भी दिए गए।

विधायक चौधरी बाबूलाल और उनके प्रतिनिधि डा. रामेश्वर चौधरी से जनप्रतिनिधियों ने किरावली के विकास से संबंधित कार्य शासन से कराने की मांग की। उन्होंने कहा कि पानी की गिरासू टंकी, कस्बे की प्रस्तावित गोशाला की फाइल शासन में लंबित है, इसे अनुमोदित कराकर धनराशि आवंटित कराई जाए। अमरपाल मुखिया, सुंदरलाल बंसल और फूल सिंह माहौर ने उप गल्ला मंडी, सीसीटीवी कैमरे, दोनो चौराहों पर पीने के पानी की किल्लत और यात्रियों के लिए टिनशेड व कुर्सियां लगवाने की मांग रखी। इस पर विधायक ने सहमति जताई। मुकेश पाठक ने कहा कि 1998 में शासन ने प्रस्तावित थाने के लिए जमीन आवंटित की थी। इस पर थाना बनवाया जाए। बैठक में चेयरमैन नूतन विनोद अग्रवाल, सभासद संतकुमार सिघल, प्रेम सिंह इंदौलिया, रामनरेश इंदौलिया, छोटू इंदौलिया, गीतम सिंह, मुहम्मद इजरायल, बीना देवी, गजना देवी, सीता देवी उपस्थित रहे।

Edited By: Jagran