आगरा, जागरण संवाददाता। जीआईसी ग्राउंड से कोठी मीना बाजार मैदान तक ट्रैक्टर जुटने शुरू हो गए हैं। किसान और भाजपाई आज संयुक्त रूप से ट्रैक्टर पर सवार होंगे और कलक्ट्रेट, पुलिस लाइन होते हुए वापस कोठी बाजार मैदान लौटेंगे।

तीनों नए कृषि कानूनों को केंद्र सरकार ने वापस ले लिया है, लेकिन भाजपा किसानों तक पहुंच बनाने में जुटी है। अपनी बात किसानों तक पहुंचाने और कृषि कानूनों के विरोध में उपजे असंतोष को घटाने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। इसकी जिम्मेदारी भाजपा किसान मोर्चा पर है। पिछले दिनों किसान चौपाल के माध्यम से ब्रज क्षेत्र के संगठनात्मक सभी 19 जिलों में किसानों से सीधे संपर्क साधा था। अब पूरे प्रदेश में ट्रैक्टर रैली के माध्यम से किसानों को साथ जोड़ा जा रहा है। शुक्रवार को किसानों के साथ भाजपाई ट्रैक्टर रैली निकालेंगे। ब्रजक्षेत्र की ट्रैक्टर रैलियों की शुरुआत 19 नवंबर को मथुरा से भाजपा किसान मोर्चा प्रदेशाध्यक्ष कामेश्वर सिंह ने हरी झंडी दिखाकर की थी। शुक्रवार को कोठी मीना बाजार मैदान से रैली की शुरुआत किसान मोर्चा राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं सांसद राजकुमार चाहर करेंगे। देर रात रैली का रूट बदल दिया गया इसके बाद अब दीवानी चौराहे स्थित चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा की जगह रैली कलक्ट्रेट पुलिस लाइन होते हुए वापस कोठी मीना बाजार मैदान लौटेगी। एसपी ट्रैफिक से वार्ता के बाद भाजपाइयों ने यह निर्णय लिया। रैली में 200 से 400 ट्रैक्टर का लक्ष्य रखा गया है, जिससे बहुत अधिक भीड़ न जुटे और लोगों को असुविधा नहीं हो। किसान मोर्चा ब्रजक्षेत्र अध्यक्ष प्रशांत पौनिया ने बताया ने कहा कि किसानों को साथ जोड़ने के लिए रैली निकाली जा रही है। किसानों को विपक्ष गुमराह करने का काम कर रहा था। प्रधानमंत्री ने किसानों का मान रखा और कृषि कानूनों को वापस लिया है। न्यूनतम समर्थन मूल्य के माध्यम से किसानों को उनकी फसल का उन्नत दाम दिलाया जा रहा है, तो कृषि यंत्रों पर सब्सिडी के माध्यम से उनको तकनीकि से जोड़ा जा रहा है। विपक्ष ट्रैक्टर को जलाने का काम करता है और भाजपा पूजन कर रैली की शुरुआत करेगी। . 

Edited By: Tanu Gupta