आगरा, जागरण संवाददाता। हमारी पावन भूमि भारत, यूं तो पूरा विश्व ही भारत भूमि की विशेषता, संस्कृति के बारे में जानता है। श्रीराम, कृष्ण की ये धरती किसी को भी अपना परिचय देने के लिए मोहताज नहीं है लेकिन आधुनिक युग में हमारी नइ पीढ़ी अपनी जड़ों के प्रति अनभिज्ञ्न है। नहीं जानते कि इस धरती का गौरव क्या है। वहीं इतने विशाल देश में कोइ भी एक साधन एेसा नहीं है जो देश के गौरव से परिचित कराने में सहायक बने। एेसे में आइआरसीटीसी ने एक पहल की है। अब लोग देश के सबसे बड़े नेटवर्क रेल विभाग की पहल से भारत गौरव का दर्शन कर सकेगी। जी, हां देश की पहली पर्यटन ट्रेन भारत गौरव 21 जून से अपने सफर पर निकलेगी। 

आगरा कैंट पर हुइ प्रेसवार्ता में आइआरसीटीसी के पीआरओ आनंद कुमार झा ने बताया कि 21 जून से देश की पहली पर्यटन ट्रेन भारत गौरव सफर पर निकलेगी। यात्रियों की सुविधा और पसंद को ध्यान में रखते हुए ये ट्रेन शुरू की जा रही है। सनातन धर्म के करीब 12 धार्मिक स्थलों पर ये ट्रेन पहुंचेगी। सबसे बड़ी बात लोगों की आस्था से या कहें भारत के हृदय में बसे भगवान श्रीराम से जुड़े तमाम धार्मिक स्थलों तक ये ट्रेन दर्शन कराने ले जाएगी। जिले के लोग भारत गौरव ट्रेन में आगरा और इसके आसपास के पर्यटक टूंडला स्टेशन से बैठ सकेंगे।  

यहां कराएंगी भारत गौरव ट्रेन दर्शन 

आनंद कुमार झा ने बताया कि भारत गौरव ट्रेन अपने सफर के दौरान भारत से नेपाल तक के धार्मिक पर्यटन स्थलों का भ्रमण कराएगी। भारत और नेपाल के दो पवित्र स्थलों अयोध्या व जनकपुर को जोड़ती हुई पहली पर्यटन ट्रेन दिल्ली से चलेगी, ट्रेन का टूर 18 दिन का होगा। ट्रेन रामायण सर्किट पर नेपाल के जनकपुर पहुंचेगी। यात्रा के पहले दिन ये ट्रेन अयोध्या पहुंचेगी, इसके बाद बक्सर, जयनगर, जनकपुर, काशी, चित्रकूट, नासिक, रामेश्वरम, कांचीपुरम, भद्राचलम से वापस दिल्ली लौटेगी। आगरा और इसके आसपास के पर्यटक टूंडला स्टेशन से बैठ सकेंगे। इसका किराया 62 हजार प्रति यात्री होगा 

Edited By: Tanu Gupta