आगरा, जागरण संवाददाता। गिरासू भवनों में किसी तरीके के हादसे या फिर अनहोनी की आशंका पर नगर निगम ने पल्ला झाड़ लिया है। राम बरात के रूट में हरीपर्वत, रकाबगंज और छत्ता जोन में 61 भवन आ रहे हैं। लोगों को जर्जर छत और छज्जे के ऊपर नीचे खड़ा न होने के लिए कहा गया है।

इस साल जनकपुरी निर्भय नगर और देव नगर में सज रही है। राम बरात 25 सितंबर को निकलेगी। इसकी शुरुआत मनकामेश्वर मंदिर रावतपाड़ा से होगी। फिर रामबरात विभिन्न मार्गों से होती हुई वापस मंदिर पर पहुंचेगी। फिर यह वाहनों से जनकपुरी के लिए प्रस्थान करेगी। रामबरात के रूट पर 61 जर्जर / गिरासू भवन पड़ रहे हैं। मुख्य अभियंता एके सिंह ने बताया कि संबंधित भवन स्वामियों को नोटिस जारी किया गया है।

रामबरात के रूट पर ये हैं जर्जर भवन

भवन संख्या, स्थल

- 27/52 व 28/256, पथवारी रोड

- 27/2ए, एमके मेडिकल स्टोर

- 4/120, 4/177, कचहरी घाट रोड

- 3/4 सी, छत्ता बाजार रोड

- 3/54, पप्पू पान भंडार, छत्ता बाजार रोड

- 7/1, दामोदर दास कचहरी घाट रोड

- 4/454, मौर्या गृह उद्योग कचहरी घाट रोड

- 6/56/1, बेलनगंज रोड

- 1/37, 1/38,1/39, 1/67, 1/68, जौहरी बाजार

- 4128, 4/129, केनरा बैंक के पास कचहरी घाट

- 4/174, केनरा बैंक के सामने कचहरी घाट

- 31/32, 31/33, 31/35, 31/1, रावतपाड़ा रोड

- 1/73, 1/87, शर्मा पान भंडार

- 17/188, 203,205 और 206, धूलियागंज

- 18/8, साईं फर्नीचर धूलियागंज

- राधे स्वीट हाउस और सिंध पंजाब टेंट हाउस, फुलट्टी तिराहा।  

Posted By: Tanu Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप