आगरा, जागरण संवाददाता। सपा नेता पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जुगेंद्र सिंह यादव और उनके भाई अलीगंज के पूर्व विधायक रामेश्वर सिंह यादव के विरुद्ध प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई करते हुए एटा, कानपुर, दिल्ली में 20 बैंक खाते सीज कर दिए। जांच के दौरान एक-एक बैंक में पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष के कई खाते मिले। इसके अलावा कोतवाली देहात के गांव घिलौआ पर खरीदी गई जमीन भी जब्त कर ली गई। दोनों भाइयों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत यह कार्रवाई की गई है। पूर्व विधायक इस समय जेल में हैं, जबकि पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष फरार हैं।

पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष का दिल्ली में एनएम बुल्डबैल प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के नाम से स्टेट बैंक आफ इंडिया पालियामेंट हाउस बैंक में खाता है। इसे पुलिस ने कार्रवाई करते हुए सीज कर दिया। इसकी एक कापी गांव अमृतपुर स्थित मकान पर भी चस्पा कर दी गई। पूर्व विधायक रामेश्वर सिंह यादव का खाता पाटून पांडु नगर कानपुर स्थित सेंट्रल बैंक आफ इंडिया में है, इसे भी सीज किया गया है। प्रशासन ने दावा किया गया है कि जो खाते सीज किए गए हैं उनमें गैंगस्टर एक्ट के तहत अर्जित की गई रकम रखी गई थी। इसके साथ ही जुगेंद्र के एटा स्थित एक्सिस बैंक में तीन, एटा की सेंट्रल बैंक में ही 13 खाते मिले, यह भी सीज कर दिए गए। इसके अलावा आईसीआईसीआई बैंक में भी जुगेंद्र का खाता मिला है, जिसे सीज करने की कार्रवाई की गई है। एक खाता बैंक आफ इंडिया में मिला है, उसे भी सीज किया गया है।

इसके अलावा कोतवाली देहात के गांव घिलौआ में कुछ जमीन भी सपा नेताओं के नाम पर थी। पुलिस द्वारा कराई गई जांच पड़ताल में इस जमीन का कोई हिसाब-किताब आरोपितों ने नहीं दिया था, इसे जब्त कर लिया गया। सपा नेताओं के विरुद्ध निरंतर कार्रवाई की जा रही है। तीन दिन पूर्व ही अलीगंज में जमीन जब्त की गई थी, इससे पहले करोड़ों की जमीन भी जब्त की जा चुकी है। सपा नेताओं के अलावा उनके परिवार के सदस्यों के विरुद्ध भी जमीनों पर अवैध कब्जे के मामले दर्ज हैं। जुगेंद्र की पत्नी जिला पंचायत अध्यक्ष रेखा यादव के विरुद्ध भी प्राथमिकी हुईं हैं। जिलाधिकारी अंकित अग्रवाल ने 18 जून को आरोपितों की जमीन जब्त करने का निर्देश जारी किया था, तभी से यह कार्रवाई की जा रही है। अपर पुलिस अधीक्षक धनंजय कुशवाह ने बताया कि आरोपितों ने गैंग बनाकर संपत्ति अर्जित की और अनाप-शनाप रकम बैंक खातों में जमा की गई। कुल 20 खाते सीज किए गए हैं।

 

Edited By: Tanu Gupta