आगरा, जागरण संवाददाता। डा. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय की राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अंतर्गत द्वितीय सेमेस्टर की परीक्षाएं 13 अगस्त से शुरू होनी हैं, पर विश्वविद्यालय की तैयारी अभी तक पूरी नहीं है। परीक्षाओं में केवल तीन दिन शेष हैं, अब तक न तो परीक्षा केंद्र ही निर्धारित हुए और न ही सभी छात्रों के परीक्षा फार्म ही भरे गए हैं।

द्वितीय सेमेस्टर की परीक्षा में आगरा मंडल के 397 कालेजों के 99 हजार छात्र परीक्षा देंगे, लेकिन अब तक लगभग 13 हजार छात्रों के परीक्षा फार्म ही भर पाए हैं। परीक्षा शुल्क जमा करने को लेकर 29 सेल्फ फाइनेंस कालेज उच्च न्यायालय भी गए थे। उच्च न्यायालय ने विश्वविद्यालय को शासन द्वारा निर्धारित शुल्क लेने के निर्देश दिए थे। जिसके बाद परीक्षा समिति की बैठक में इस आदेश को पारित कराया गया कि शासन द्वारा निर्धारित परीक्षा शुल्क ही लिया जाएगा। कालेजों के द्वारा शुल्क जमा करने की व्यवस्था मंगलवार से शुरू होनी थी, जो मोहर्रम के अवकाश के कारण नहीं हो पाई।

नहीं बन पाए हैं परीक्षा केंद्र

विश्वविद्यालय ने सभी संबद्ध कालेजों से सीसीटीवी व अन्य संसाधनों की जानकारी मांगी थी। यह जानकारी कालेजों ने अब तक उपलब्ध नहीं कराई है, जबकि इसकी अंतिम तिथि चार जुलाई थी। ऐसे में परीक्षा केंद्रों का निर्धारण ही नहीं हो पाया है। 99 हजार छात्रों के लिए कितने परीक्षा केंद्र बनाए जाएंगे, इसकी जानकारी भी नहीं है।

परीक्षा केंद्रों पर जल्द निर्णय ले लिया जाएगा। बुधवार से लिंक खोल जाएगा, जिससे कालेज शुल्क जमा करा सकें।इसके साथ ही परीक्षा फार्म भी भरने शुरू हो जाएंगे।

- डा. ओमप्रकाश, परीक्षा नियंत्रक 

Edited By: Tanu Gupta