आगरा, जागरण संवाददाता। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) की रिपोर्ट के अनुसार बुधवार को आगरा में वायु गुणवत्ता बहुत खराब स्थिति में पहुंच गई। यहां एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआइ) 308 दर्ज किया गया जो कि मंगलवार के एक्यूअाइ 294 से अधिक रहा। सूक्ष्म कणों की मात्रा हवा में अधिक घुली होने से हवा दमघोंटू हो चुकी है। इस स्थिति के अधिक समय तक रहने पर लोगों को श्वास रोग हो सकते हैं।

संजय प्लेस स्थित आटोमेटिक मानीटरिंग स्टेशन पर एकत्र आंकड़ों के आधार पर सीपीसीबी प्रतिदिन शाम को आगरा में वायु गुणवत्ता की स्थिति पर रिपोर्ट जारी करता है। सीपीसीबी द्वारा तय मानकों के अनुसार वायु गुणवत्ता एक्यूआइ 0-50 तक रहने पर अच्छी, 51-100 तक संतोषजनक, 101-200 तक मध्यम, 201-300 तक खराब और 301-400 तक बहुत खराब रहती है। बुधवार को कार्बन मोनोआक्साइड की अधिकतम मात्रा मानक चार माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर के 19 गुना से अधिक रही। अति सूक्ष्म कणों की अधिकतम मात्रा मानक 60 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर का करीब सात गुना रही। आगरा में पिछले 21 दिनों में दूसरी बार वायु गुणवत्ता बहुत खराब स्थिति में पहुंची है। इससे पूर्व 25 अक्टूबर को वायु गुणवत्ता बहुत खराब स्थिति में रही थी। अन्य दिनों में वायु गुणवत्ता निरंतर खराब स्थिति में रही।

पिछले कुछ दिनों में एक्यूआइ की स्थिति

तिथि, एक्यूआइ, स्थिति

25 अक्टूबर, 309, बहुत खराब

26 अक्टूबर, 285, खराब

27 अक्टूबर, 294, खराब

28 अक्टूबर, 308, बहुत खराब

प्रदूषक तत्वों की यह रही स्थिति

बुधवार

प्रदूषक तत्व, न्यूनतम, अधिकतम, औसत

कार्बन मोनोआक्साइड, 4, 78, 20

नाइट्रोजन डाइ-आइक्साइड, 27, 106, 70

सल्फर डाइ-आक्साइड, 1, 105, 27

ओजोन, 19, 145, 95

अति सूक्ष्म कण, 123, 411, 308

मंगलवार

प्रदूषक तत्व, न्यूनतम, अधिकतम, औसत

कार्बन मोनोआक्साइड, 29, 67, 44

नाइट्रोजन डाइ-आक्साइड, 34, 110, 69

सल्फर डाइ-आक्साइड, 2, 60, 15

ओजोन, 16, 275, 181

अति सूक्ष्म कण, 205, 359, 302

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस